कोरोना को लेकर चुनाव आयोग सख्त, 38 लाख दस्तानों का दिया टेंडर, ग्लब्स पहन EVM का बटन दबाएंगे वोटर्स

Haimendra Singh, Last updated: Sun, 16th Jan 2022, 11:17 AM IST
  • कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए निर्वाचन आयोग ने 38 लाख दस्तानों के टेंडर दिया है. इस गलब्स को पहनकर मतदाता ईवीएम मशीन का बटन दवा सकते हैं. इसके अलावा कोरोना संक्रमित मरीजों को अंतिम एक घंटे में वोट डालने के लिए टोकन भी दिए जाएंगे.
गलब्स पहनकर ईवीएम मशीन का बटन दबाएंगे मतदाता.( सांकेतिक फोटो )

लखनऊ. उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 की तैयारियां जोरों पर चल रही हैं. कोरोना वायरस के खतरे को देखते हुए चुनाव आयोग संक्रमण से बचाव के नए-नए कदम उठा रहा है. कोविड की नई गाइडलाइन में निर्वाचन आयोग ने फैसला किया है कि ईवीएम मशीन का बटन दबाने वाले मतदाताओं को दस्ताने दिए जाएंगे. ऐसा इसलिए किया जा रहा है कि बार-बार छूने से वोटरों में कोरोना का संक्रमण ना फैले. इसके लिए प्रशासन ने 38 लाख दस्तानों का टेंडर दिया है. इसके अलावा मतदान केंद्रों पर सैनिटाइजर और मास्क की सुविधा भी रहेगी. इसके अलावा वोटिंग से एक दिन पहले पूरे मतदान केंद्र को सेनिटाइज किया जाएगा.

उप जिला निर्वाचन अधिकारी व एडीएम (प्रशासन) अमर पाल सिंह ने बताया हैं कि 38 लाख के करीब दस्तानों के अलावा मास्क, सेनिटाइजर आदि का भी टेंडर किया गया है. जिन मतदाताओं के पास मास्क नहीं होगा, उनके लिए रिजर्व में मास्क रखा जाएगा. वेटिंग प्रकिया के दौरान पहचान के समय मतदाता को अपना मास्क निकलना होगा. इसके अलावा मतदान केन्द्र के अंदर प्रवेश करने से पहले प्रत्येक वोटर का थर्मल स्क्रीनिंग अनिवार्य रूप से किया जाएगा. पिछले कुछ दिनों में कोरोना और नया वेरिएंट ओमिक्रान तेजी से फैल रहा है. इसी खतरे को देखते हुए प्रशासन और निर्वाचन आयोग ने यह फैसला लिया है.

यूपी चुनाव: मुलायम सिंह यादव की छोटी बहू अपर्णा यादव आज बीजेपी में होंगी शामिल!

कोविड मरीजों के लिए स्पेशल सुविधाएं

थर्मल स्क्रीनिंग में ज्यादा टेंपरेचर आने और कोविड-19 संक्रमित मरीजों को मतदान के लिए लोकन मिलेगा. इस टोकन से वह मतदान के अंतिम घंटे में अपने मत अधिकार का प्रयोग कर सकेंगे. वोटर के शरीर का तापमान अधिक पाया जाता है तो उसकी दोबारा जांच होगी. संक्रमित मरीज स्वास्थ्य अधिकारियों की देखरेख में अंतिम घंटे में मतदान करेंगे. इसके अलावा मतदाताओं को दो गज की दूरी, 15 से 20 वोटरों के लिए घेरा निर्धारित किया जाएगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें