लखनऊ पीजीआई में 30 मार्च से दोबारा शुरू होगी ई- ओपीडी, रोज देखे जाएंगे 50 मरीज

Smart News Team, Last updated: Thu, 25th Mar 2021, 3:22 PM IST
  • उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए लखनऊ के पीजीआई में 30 मार्च से ई- ओपीडी दोबारा शुरू हो जाएगी.ई- ओपीडी में रोज 20 नए मरीजों तथा 30 पुराने मरीजों को देखा जाएगा. इलाज के लिए आने वाले मरीज के साथ केवल एक ही तीमारदार को प्रवेश मिल सकेगा.
लखनऊ पीजीआई(फाइल फोटो)

लखनऊ। उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस का संक्रमण एक बार फिर से बहुत तेजी से फैल रहा है. इन बढ़ते मामलों को ध्यान में रखते हुए लखनऊ के पीजीआई में 30 मार्च से ई- ओपीडी दोबारा शुरू हो जाएगी. ई- ओपीडी में रोज 20 नए मरीजों तथा 30 पुराने मरीजों को देखा जाएगा.

लखनऊ के पीजीआई में 30 मार्च से शुरू हो रही ई- ओपीडी में इलाज के लिए आने वाले मरीज के साथ केवल एक ही तीमारदार को प्रवेश मिल सकेगा. मरीज के साथ जो भी व्यक्ति आएगा, उसकी कोरोना जांच करवाना अनिवार्य होगा. किसी भी व्यक्ति को बिना कोरोना की जांच कराए ओपीडी में प्रवेश नहीं मिल सकेगा.

CM योगी बोले- पीएम के संकल्प को करेंगे पूरा, यूपी 2025 से पहले बनेगा टीबी मुक्त

देशभर में विभिन्न राज्यों महाराष्ट्र, केरल, दिल्ली, पंजाब, मध्य प्रदेश तथा राजस्थान के बाद अब उत्तर प्रदेश में कोरोना के एक्टिव केस 56 प्रतिशत तक बढ़ गए हैं. बढ़ते मामलों को देखते हुए सरकार अलर्ट हो गई है जिसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार देर शाम लखनऊ में उच्च स्तरीय बैठक भी बुलाई.

UPSSSC ग्राम विकास अधिकारी भर्ती परीक्षा हुई निरस्त, 1953 पदों पर हुई थी परीक्षा

उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिले अब कोरोना वायरस संक्रमण की चपेट में आ चुके हैं. राज्य में एक्टिव केस 53 प्रतिशत तक बढ़ चुके हैं, इसके साथ ही कोरोना वायरस का संक्रमण राज्य के 16 जिलों में काफी तेजी से फैल रहा है. उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में हर दिन केस की संख्या में बढ़ोतरी हो रही है. बाकी महीनों के देखते मार्च में केस दोगुने बढ़ गए हैं. बुधवार को कोरोना के चलते पांच लोगों ने दम तोड़ा था. प्रदेश में अब तकरीबन 4,388 एक्टिव केस हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें