लखनऊ में अवैध कब्जा हटाने गई LDA टीम पर हमला, पथराव पिटाई में JCB ड्राइवर की मौत

Shubham Bajpai, Last updated: Thu, 11th Nov 2021, 5:48 PM IST
  • लखनऊ में अवैध कब्जा खाली करवाने पहुंची एलडीए की टीम पर भूमाफिया और किसानों ने हमला कर दिया. इस हमले में अधिकारियों ने किसी तरह भागकर अपनी जान बचा ली, लेकिन कब्जा हटवाने साथ गई जेसीबी के ड्राइवर की मारपीट के बाद मौत हो गई.  एलडीए की जमीन पर अवैध प्लाटिंग कर दी गई थी, जिसे खाली करवाने टीम पहुंची थी.
अवैध कब्जा हटाने गई LDA की टीम के साथ किसानों ने की मारपीट व पथराव, 1 की मौत

लखनऊ. राजधानी में गुरुवार को किसान औ भूमाफिया ने अवैध कब्जा खाली करवाने गई लखनऊ विकास प्राधिकरण की टीम पर हमला बोल दिया. इस दौरान किसान टीम के सदस्यों के साथ मारपीट करने लगे और उन्होंने पथराव शुरू कर दिया. किसी तरह अधिकारियों ने भागकर अपनी जान बचा ली. वहीं, किसानों ने जेसीबी के ड्राइवर को घेर जमकर पीटा. जिससे उसकी मौत हो गई.

टीम प्रबंध नगर योजना के अंतर्गत स्थित कैरियर मेडिकल कॉलेज के पीछे प्राधिकरण की जमीन पर कब्जा कर अवैध प्लाटिंग को हटाने गई थी. इस दौरान किसान और भूमाफिया ने हमला कर दिया. अब एलडीए किसान और निजी मेडिकल कॉलेज के खिलाफ एफआईआर करवाने की तैयारी कर रही है.

UP Elections 2022: सीएम योगी के कैराना दौरा के बाद मुजफ्फरनगर में आज अखिलेश यादव की बड़ी रैली

अवैध कब्जा हटाने की सूचना मिलते ही पहुंच गए किसान

एलडीए की टीम प्रवर्तन दस्ता ओएसडी अरुण कुमार सिंह के नेतृत्व में कब्जा हटाने गई थी. इस दौरान टीम ने 17 एकड़ जमीन से कब्जा हटा लिया था. तभी काफी संख्या में किसान और भूमाफिया मौके पर पहुंच हंगामा करने लगे. किसानों ने पहले पथराव करना शुरू किया और बाद में मारपीट शुरू कर दी. इस दौरान अधिकारी निकल गए. वहीं, जेसीबी ड्राइवर की पिटाई से मौत हो गई.

अधिकारियों ने बताया कि पथराव के बाद हम वहां से भाग निकले, यदि हम रूके रहते तो हमें भी मार दिया जाता. इस दौरान जेसीबी मशीन नहीं निकल पाई और किसानों ने ड्राइवर को निकालकर उसकी पिटाई की. जिससे दहशत में आने से हार्ट अटैक आने से ड्राइवर की मौत हो गई. वहीं, हमने घटना की सूचना एलडीए उपाध्यक्ष अक्षय त्रिपाठी को दी.

UP के किसानों को इस साल से मिलेगा गन्ने का बढ़ा मूल्य, यूपी कैबिनेट ने लगाई मुहर

किसान और निजी मेडिकल कॉलेज के खिलाफ कराएंगे एफआईआर

एलडीए के अधिकारियों ने बताया कि इस मामले में किसानों के साथ निजी कैरियर मेडिकल कॉलेज के खिलाफ भी एफआईआर करवाई जाएगी. क्योंकि किसानों को मेडिकल कॉलेज के लोगों द्वारा उकसाया गया, जिसके बाद टीम पर किसानों ने हमला कर दिया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें