बिना जांच के IAS अफसरों के खिलाफ दर्ज की FIR, पद से हटाए गए कोतवाल

Smart News Team, Last updated: 08/02/2021 04:55 PM IST
  • पुलिस के पास दर्ज शिकायत में ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी व अन्य अफसरों के पद के बारे में कुछ नहीं लिखा था. इंस्पेक्टर यशकांत ने अपने स्तर से कोई जांच पड़ताल नहीं की और एफआईआर दर्ज कर ली. इस बात की जानकारी बाद में हुई कि एफआईआर में नामजद आरोपियों में से 2 आईएएस अफसर हैं.
आलमबाग क्षेत्र में कोतवाल पर एक्शन लिया गया है.

लखनऊ. लखनऊ में बिना जांच पड़ताल किए केवल नाम के आधार पर एफआईआर दर्ज करने वाले इंस्पेक्टर यशकांत को पद से हटा दिया गया. राज्य नियोजन संस्थान की एक महिला कर्मचारी की शिकायत पर कुछ आईएएस अफसरों के खिलाफ एफआईआर लिखने में इंस्पेक्टर महानगर यशकांत की लाइन हाजिर कर दिया गया है.

मामला आलमबाग क्षेत्र का है, पुलिस के पास दर्ज शिकायत में ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी व अन्य अफसरों के पद के बारे में कुछ नहीं लिखा था. इंस्पेक्टर यशकांत ने अपने स्तर से कोई जांच पड़ताल नहीं की और एफआईआर दर्ज कर ली. इस बात की जानकारी बाद में हुई कि एफआईआर में नामजद आरोपियों में से 2 आईएएस अफसर हैं. इस मामले में रविवार को शासन के अफसरों ने पूछताछ शुरू की तो यह बात सामने आई. मामले के खुलासे के बाद ही इंस्पेक्टर यशकांत को पद से हटा दिया गया.

BJP सरकार से नहीं संभल रहा देश, खुद को ठेके पर देकर भ्रमण पर निकल जाए: अखिलेश

आरोपियों के खिलाफ जांच शुरू करने के लिए पुलिस को अनुमति लेनी होगी तब तक इन लोगों को केवल नोटिस भेज दिया जाएगा. मामले में 3 फरवरी को 11 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई थी. संस्थान की एक महिला कर्मचारी ने कई तरह के आरोप लगाते हुए पुलिस के पास शिकायत दर्ज कराई थी. इसमें रिटायर्स सैयद आफाक अहमद डॉक्टर सतवीर संघ कामा वरिष्ठ मूल्यांकन अधिकारी डॉक्टर सतराम, कनिष्ठ सहायक दिनेश कुमार, डॉ राजेंद्र यादव, पूर्व निदेशक अंकित कुमार अग्रवाल, आईएएस ज्ञान प्रकाश त्रिपाठी, डॉक्टर डी सरीन, उमेश कुमार, डॉक्टर गोविंदा बाबू, वी श्रीवास्तव का नाम लिखवाया गया था.

लखनऊ : रेरा ने 10 बिल्डरों पर 6 करोड़ का जुर्माना लगाया, देखें लिस्ट

अफसरों का आरोप है कि इंस्पेक्टर यशकांत ने महिला की शिकायत पर ध्यान नहीं दिया. पुलिस अफसरों का कहना है कि इंस्पेक्टर ने इस मामले में ज्यादा जांच पड़ताल नहीं की और न ही अधिकारियों को मामले से अवगत कराय. शिकायत मिलने पर सीधा एफआईआर दर्ज कर दी. पद से हटाने के बाद प्रदीप कुमार सिंह को इंस्पेक्टर यशकांत की जगह पर महानगर का नया कोतवाल बनाया गया है साथ ही इंस्पेक्टर अशोक कुमार सिंह को आलमबाग के नए इंस्पेक्टर होंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें