नवरात्र से तेजस एक्सप्रेस फिर चलेगी, यात्रियों को मिलेगी ये सुविधाएं

Smart News Team, Last updated: 14/10/2020 12:21 PM IST
  • लखनऊ से नई दिल्ली के लिए जाने वाली देश की पहली कॉरपोरेट ट्रेन तेजस एक्सप्रेस नवरात्र के पहले दिन से फिर से पटरी पर दौड़ेगी. आईआरसीटीसी प्रबंधन ने डायनामिक किराए पर रोक लगाकर यात्रियों को नवरात्र पर तोहफा दिया है. व्रत रखने वाले यात्रियों को फल समेत व्रत का खाना मिलेगा. 
लखनऊ-नई दिल्ली तेजस एक्सेप्रस 17 अक्टूबर से चलेगी फिर, बुकिंग कल से शुरू

लखनऊ. नवरात्र के शुभ अवसर पर इंडियन रेलवे कैटरिंग एंड टूरिज्म कॉरपोरेशन (आईआरसीटीसी) तेजस एक्सप्रेस की नए बदलाव के साथ शुरुआत करेगा. यात्रियों की सुविधाओं का ध्यान रखते हुए आईआरसीटीसी प्रबंधन ने कई नए कदम उठाया है. जिसमें यात्रियों को सबसे जरूरी सोशल डिस्टेंसिंग की सुविधा मिलेगी. आईआरसीटीसी ने डायनामिक किराए पर रोक लगाकर यात्रियों को नवरात्र पर तोहफा दिया है. इसके साथ ही यात्रियों को खानपान की सुविधाएं भी उपलब्ध करवाई जाएंगी जिसमें फलाहार को भी शामिल किया गया है.

त्योहारों के मौसम के चलते रेलवे विभाग यात्रियों की हर मांग को पूरा करने की कोशिश कर रहा है. इसी कोशिश में रेलवे कुछ समय के लिए 196 जोड़ी ट्रेनों को संचालित करेगा. इन सभी त्योहार विशेष ट्रेनों का संचालन 20 अक्टूबर से 30 नवंबर के बीच किया जाएगा. अगले महीने में आने वाले त्यौहार दशहरा दिवाली छठ पूजा के समय होने वाली छुट्टियां की वजह से मुसाफिरों की मांग बढ़ने को लेकर विशेष ट्रेनें चलाई जा रही है. 

UPSEE Results 2020: यूपीएसईई 2020 एग्जाम का रिजल्ट जारी, ऐसे करें चेक

ये विशेष ट्रेनें कोलकाता पटना वाराणसी लखनऊ समेत अन्य स्थलों के लिए चलाई जाएंगी. इन सभी पर्व विशेष ट्रेनों की स्पीड 55 किलोमीटर प्रति घंटा रहेगी जिसके साथ ही इनका इन पर किराया भी विशेष रेलगाड़ियों वाला लागू होगा. रेल मंत्रालय ने कहा कि आने वाले त्योहारी मौसम में मुसाफिरों की भीड़ का अंदाजा लगाते हुए यह फैसला लिया गया. देशभर में रेलवे फिलहाल 300 से ज्यादा एक्सप्रेस ट्रेनों का संचालन संभाल रहा है.

UP शिक्षक भर्ती: 16 अक्टूबर को नियुक्ति पत्र, सफल उम्मीदवारों से CM करेंगे बात

त्योहारों के इस मौसम में छठ महापर्व की महत्वता को देखते हुए बिहार आने के लिए लोग देश की अनेक जगहों से तैयारी कर रहे हैं. ऐसे में यात्रियों को रेलवे की इस पहल से आने जाने में सुविधा मिलेगी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें