नशे पर लगाम लगाने के लिए योगी सरकार UP में बनाएगी स्पेशल एंटी नार्कोटिक फोर्स

Smart News Team, Last updated: 08/04/2021 10:41 AM IST
  • राज्य सरकार कोडीन और फार्मा ओपीआइडी आधारित दवाओं के दुरूपयोग को रोकने के लिए सख्त कदम उठाएगी. इसके लिए कोडीन और फार्मा ओपीआइडी को रोकने के लिए मई महीनें में राज्य में गहन अभियान चलेगा. 
सरकार कोडीन और OPID आधारित दवाओं के दुरूपयोग रोकने के लिए सख्त है. (प्रतिकात्मक फोटो)

लखनऊ- राज्य सरकार कोडीन और फार्मा ओपीआइडी आधारित दवाओं के दुरूपयोग को रोकने के लिए सख्त कदम उठाएगी. इसके लिए कोडीन और फार्मा ओपीआइडी को रोकने के लिए मई महीनें में राज्य में गहन अभियान चलेगा.

इसके अलावा यह भी फैसला लिया गया कि राज्य में स्पेशल एंटी नार्कोटिक फोर्स का गठन किया जाए. यह सभी फैसले बुधवार को मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी की अध्यक्षता में आयोजित राज्य नार्को समन्वय केन्द्र की स्टेट लेवल कमेटी की पहली बैठक में लिए गए. एनडीपीसी नीति और ड्रग कानून प्रवर्तन एजेंसियों के संचालन संबंधी मुद्दों पर चर्चा हुई. मुख्य सचिव ने निर्देश दिए कि कोडीन आधारित खांसी की दवाई, फार्मा ओपीआइडी जैसे ट्रेमडोल के दुरूपयोग की निगरानी और विनियम की बेहतर व्यवस्था की जाए. इसके अलावा बैठक में यह भी फैसला लिया गया कि गृह विभाग के अंतर्गत स्पेशल एंटी नार्कोटिक टॉस्क फोर्स का गठन किया जाए.

UP नाइट कर्फ्यू: ये हैं कोविड प्रोटोकॉल, जानें किस-किस सेवाओं में है छूट

मिली जानकारी के मुताबिक, इस बैठक में टॉस्क फोर्स के निर्माण से संबंधित मुद्दे, राज्य में सभी दवा कानून प्रवर्तन एजेंसियों के प्रशिक्षण को बढ़ाने, नशीली दवाओं के दुरूपयोग रोकने और अवैध खेती समेत तस्करी की रोकथाम के लिए विशेष कार्ययोजना बनाने के निर्देश दिए गए.

UP पंचायत चुनाव : योगी सरकार का फैसला- मतदान के दिन सार्वजनिक अवकाश

कोरोना के बढ़ते मामले पर मायावती ने सरकार पर साधा निशाना, नियमों के उल्लंघन को बताया चिंताजनक

UP पंचायत चुनाव: कांग्रेस ने लखनऊ जिला सदस्य प्रत्याशियों की सूची की जारी

लखनऊ: KGMU के हर डिपार्टमेंट में स्क्रीनिंग शुरू, 30 स्टाफ मेंबर निकले थे कोरोना

लखनऊ सर्राफा बाजार में तेजी के साथ खुले सोना चांदी के दाम, आज का मंडी भाव

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें