अयोध्या में पांच दिवसीय दीपोत्सव 2021 का शुभारंभ, रिकार्ड 12 लाख दीपों से जगमगाएगी रामनगरी

ABHINAV AZAD, Last updated: Mon, 1st Nov 2021, 11:42 AM IST
  • उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग ने अयोध्या में इस बार दीपावली के दीपोत्सव को पहले से और भी ज्यादा भव्य और वैश्विक पटल पर अविस्मरणीय बनाने के लिए विशेष तैयारी की है. इस दौरान रामनगरी अयोध्या में 12 लाख दीपों का प्रज्जवलन किया जाएगा.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. अयोध्या में इस बार दीपावली के दीपोत्सव को पहले से और भी ज्यादा भव्य और वैश्विक पटल पर अविस्मरणीय बनाया जा रहा है. इसके मद्देनजर उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग ने विशेष तैयारी की है. उत्तर प्रदेश में दीपोत्सव 2021 मनाने का आयोजन किया गया है. इस दीपोत्सव का आयोजन मुख्यमंत्री योगी आदित्यानाथ के नेतृत्व में किया जा रहा है. अयोध्या में मनाए जाने वाला पांच दिवसीय दीपोत्सव 2021 सबसे खास है.

बताते चलें कि रामनगरी अयोध्या में 12 लाख दीपों का प्रज्जवलन किया जाएगा. इस दौरान राम की पैडी पर नौ लाख दीप जलाया जाएगा. जो कि अपने आप में विश्व रिकार्ड है. वहीं अयोध्या नगर क्षेत्र में तीन लाख दीपों का प्रज्जवलन किया जाएगा. साथ ही अयोध्या के तट रामायण की गाथा को भी अमर बनाया जाएगा. जबकि इसके अलावा लेजर लाइट में भव्य रामायण का हेरिटेज लुक में शो दिखाया जाएगा. तीन नवंबर को दिवाली की पूर्व संध्या पर दीपोत्सव समारोह के दौरान उत्तर प्रदेश के हर गांव से पांच मिट्टी के दीपक अयोध्या को रोशन करने में मदद करेंगे.

सपा MLA राकेश प्रताप सिंह ने दिया इस्तीफा, योगी सरकार पर लगाया वादाखिलाफी का आरोप

बताते चलें कि दीपोत्सव एक नवंबर से शुरू हो रहा है. हालांकि मुख्य आयोजन तीन नवंबर को होगा. इस दिन मां सरयू का नौ लाख दीपों से श्रृंगार किया जाएगा. इसके लिए उत्तर प्रदेश के सभी 75 जिलों के संबंधित जिलाधिकारियों को यह सुनिश्चित करने का काम सौंपा गया है. गौरतलब है कि इस साल मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने घोषणा की है कि अयोध्या में दीपोत्सव पर 12 लाख दीये (मिट्टी के दीपक) जलाए जाएंगे. इस दीपोत्सव में कम से कम नौ लाख दीये जलाने का लक्ष्य पूरा करने के लिए पर्यटन विभाग कम से कम 12 लाख मिट्टी के दीये जलाने की योजना बना रहा है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें