यूपी में विदेशी निवेश तेज, अमेरिकी NRI उद्योगपतियों ने CM योगी से इच्छा जताई

Smart News Team, Last updated: 14/12/2020 05:54 PM IST
अमेरिका में रह रहे यूपी के प्रवासी उद्योगपतियों ने वापस से प्रदेश में बसने की बात वर्चुअली मीट के दौरान रखी. इस दौरान यूपी के सीएम मौजूद रहें. उन्होंने प्रदेश में निवेश की संभावनाओं के बारे में बताया. उद्योगपतियों ने हेल्थ सेक्टर, एजुकेश सेक्टर और फार्मा के क्षेत्र  में निवेश का प्रस्ताव रखा.
(तस्वीर: सीएम योगी आदित्यनाथ)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश एसोसिएशन ऑफ नॉर्थ अमेरिका (उपाना) के तत्वाधान में यूपी सरकार और अमेरिका निवेशकों के बीच वर्चुअली कार्यक्रम सोमवार को हुआ. दरअसल, यह मीट इनवेस्टमेंट और टूरिज्म पर आधारित थी. इस दौरान अमेरकी उद्योगपतियों ने यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और वर्तमान सरकार पर निवेशकों ने विचार रखे. साथ ही निवेश की इच्छा जताई. निवेशकों ने कहा कि इस समय यूपी में बेहतर कानून व्यवस्था और उद्योग स्थापित करने का अच्छा समय है. इस अवसर पर यूपी से राज्यसभा सांसद सुधांशु त्रिवेदी भी मौजूद रहें.

सीएम आवास पर वर्चुअली कार्यक्रम में योगी ने कहा कि प्रदेश में इको टूरिज्म के विकास के असीमित अवसर हैं. साथ ही अध्यात्मिक पर्यटन भी लगातार बढ़ रहा है. इसी कड़ी में उन्होंने प्रयागराज में होने वाले कुंभ को यूनेस्को द्वारा दी गई व्याख्या 'मानवता की अमूर्त धरोहर' को भी बताया. मुख्यमंत्री ने मीट में बताया कि गंगा, यमुना, मानव सभ्यता के विकास की भूमि अयोध्या, विश्व की सबसे प्राचीन नगर काशी, श्रीकृष्ण की क्रीड़ास्थली मथुरा, वृंदावन भी प्रदेश में स्थित है.

हाइवे पर गाड़ियों की स्पीड लिमिट पर ब्रेक! परिवहन विभाग ने नई एडवाइजरी की जारी

वहीं, संभल के राकेश श्रोतिया जो पिछले 44 वर्षों से अमेरिका में हैं. उन्होंने अपनी फार्मास्युटिकल कंपनी के जरिए सीएम को यूपी में कंपनी की और शाखाएं और अस्पताल स्थापित करने के लिए प्रस्ताव रखा. पेट्रोटेल ग्रुप ऑफ कंपनी के सीईओ अनिल चोपड़ा ने सॉफ्टवेयर, एजुकेशन, सोलर और विंड एनर्जी के क्षेत्र में इन्वेस्ट करने की इच्छा जताई. साथ ही 5000 करोड़ के निवेश का मसौदा भी सीएम के समक्ष रखा. कार्यक्रम की मेजबानी कर रहे संस्थापक और ट्रस्टी राकेश अग्रवाल ने कहा कि यूपी के विकास में संगठन अपनी सहभागिता देना चाहता है. उन्होंने कहा कि कुछ उद्योगपति यूपी से अमेरिका गए हैं वे सब वापस बसना चाहते हैं.

आंदोलन के बीच किसानों को एकजुट करने में जुटे सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी ने आगे अपनी बात को विस्तार देते हुए कहा कि प्रदेश सरकार बुंदेलखंड, पूर्वांचल, गोरखपुर लिंक और गंगा एक्सप्रेस-वे का भी निर्माण कर रही है. वो कहते हैं कि इनके बनने से आवागमन और व्यापार को नया रुप मिल जाएगा. इसके साथ ही हेल्थकेयर सेक्टर पर कहा, 2017 तक प्रदेश में 12 मेडिकल कॉलेज थे. लेकिन, सरकार ने 3 वर्ष ने 30 नए मेडिकल कॉलेजों विकसित किए. 

कॉन्वेंट स्कूलों को टक्कर देंगे लखनऊ के सैकड़ों प्राइमरी स्कूल

इलेक्शन बूथ की तरह ही बनेंगे कोरोना टीकाकरण बूथ

अब बाघ एक्सप्रेस 31 जनवरी और हिमगिरि दो फरवरी तक चलेगी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें