विदेशी निवेशकों ने दिखाया भरोसा, कोरोना काल में UP में बढ़े FDI

Smart News Team, Last updated: Thu, 1st Jul 2021, 3:12 PM IST
  • उत्तर प्रदेश राज्य में पिछले साल के अक्टूबर महीने से लेकर मार्च 2021 तक 4 हजार 861 करोड़ का फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट आया है. विदेशी निवेशकों ने इस बार यूपी के बड़े शहरों के अलावा प्रदेश के छोटे जिलों जैसे अमरोहा मिर्जापुर, एटा, फर्रुखाबाद और प्रयागराज जैसे स्थानों पर भी अपना पूंजी लगाया है.
देश में टॉप 10 एफडीआई पाने वाले राज्यों में उत्तर प्रदेश भी शामिल है.

लखनऊ : कोरोना जैसी वैश्विक महामारी होने के बावजूद कई सारे विदेशी निवेशकों ने उत्तर प्रदेश राज्य में अपना पैसा निवेश किया है. विदेशी निवेशकों ने अपना कैपिटल उत्तर प्रदेश के चमड़ा उद्योग, फूड प्रोसेसिंग, इंफ्रास्ट्रक्चर, व्हीकल मैन्युफैक्चरिंग, मोबाइल इंडस्ट्री, हाउसिंग, केमिकल इंडस्ट्री जैसे क्षेत्रों में किया है. आंकड़े के अनुसार विदेशी निवेशकों ने साल 2020 के अक्टूबर से लेकर मार्च 2021 तक यूपी में करीब 4 हजार 861 करोड़ रुपए का फॉरेन डायरेक्ट इन्वेस्टमेंट (एफडीआई) किया है. इन जैसे भारी-भरकम विदेशी निवेश से उत्तर प्रदेश राज्य देश में टॉप 10 एफडीआई पाने वाले राज्यों की लिस्ट में शामिल हो गया है.

जर्मनी, अमेरिका, दक्षिण कोरिया, यूनाइटेड किंगडम जैसे देश के विदेशी निवेशकों ने इस बार उत्तर प्रदेश के बड़े शहरों गाजियाबाद, आगरा, लखनऊ, वाराणसी, आगरा कानपुर, मथुरा के अलावा छोटे शहरों जैसे अमरोहा एटा मिर्जापुर,फर्रुखाबाद, झांसी जैसे स्थानों पर भी अपनी पूंजी निवेश किया है. वहीं कई विदेशी कंपनियों ने अपने मैन्युफैक्चरिंग प्लांट को चीन से हटाकर यूपी में लगा दिया है. जिसमें दक्षिण कोरिया की सैमसंग कंपनी का ग्रेटर नोएडा प्लांट और आगरा में जर्मनी कंपनी के जूते का प्लांट शामिल है.

कोरोना काल के बावजूद यूपी में बंपर विदेशी निवेश, टॉप 10 राज्यों में शामिल

उत्तर प्रदेश सरकार ने कोरोना काल में विदेशी निवेशकों को यूपी में इन्वेस्टमेंट कराने के लिए एक हेल्प डेस्क बनाया है. जिसके मदद से विदेशी निवेशकों के प्रस्ताव को सिंगल विंडो सिस्टम की मदद से विचार किया गया. जिससे विदेशी निवेशकों ने यूपी में तेजी से निवेश किया. आने वाले समय में यूपी में कई सारे आधारभूत संरचना जैसे जेवर एयरपोर्ट, मेट्रो परियोजना, एक्सप्रेसवे बनकर तैयार हो जाएंगे. वही प्रदेश में पहला फिल्म सिटी और दिव्य और नव्य अयोध्या जैसे परियोजना पर काम हो रहा है. इन परियोजनाओं से कई सारे विदेशी निवेशकों का ध्यान खींचेगा. जिस वजह से यूपी में आने वाले समय में विदेशी निवेश और अधिक बढ़ने की संभावना है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें