UP चुनाव: आरपीएन सिंह बीजेपी में शामिल, कहा- कांग्रेस अब वो पार्टी नहीं रह गई

Jayesh Jetawat, Last updated: Tue, 25th Jan 2022, 3:44 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव 2022 पूर्व केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ कांग्रेस नेता आरपीएन सिंह मंगलवार को बीजेपी में शामिल हो गए. कांग्रेस से इस्तीफा देने के बाद दिल्ली में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की मौजूदगी में उन्होंने बीजेपी की सदस्यता ली.
बीजेपी की सदस्यता लेते आरपीएन सिंह, साथ में हैं धर्मेंद्र प्रधान, स्वतंत्र देव सिंह, ज्योतिरादित्य सिंधिया और केशव प्रसाद मौर्य

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस को बड़ा झटका लगा है. वरिष्ठ कांग्रेस नेता और पूर्व केंद्रीय मंत्री आरपीएन सिंह ने बीजेपी का दामन थाम लिया है. उन्होंने मंगलवार को दिल्ली स्थित बीजेपी दफ्तर में केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ली. आरपीएन सिंह ने कहा कि ये मेरे लिए एक नई शुरुआत है. वह पीएम नरेंद्र मोदी, बीजेपी अध्यक्ष जेपी नड्डा और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के नेतृत्व में राष्ट्र निर्माण के लिए काम करेंगे.

बीजेपी में शामिल होने के बाद आरपीएन सिंह ने कहा कि 32 सालों तक वे एक पार्टी में रहे और ईमानदारी, लगन और मेहनत से काम किया. मगर जिस पार्टी में वे इतने साल रहे अब वो पार्टी नहीं रह गई है. न ही उसकी वो सोच रह गई है, जहां से उन्होंने शुरुआत की थी. 

देश को कट्टर हिंदू राष्ट्र बनाने के संकल्प का वीडियो वायरल, पुलिस ने दर्ज की एफआईआर

उन्होंने कहा कि अगर राष्ट्र निर्माण करना है और देश को आगे बढ़ाना है तो वह एक छोटे कार्यकर्ता की हैसियत से प्रधानमंत्री मोदी के सपनों को पूरा करने के लिए जो भी प्रयास होंगे वे करेंगे.

इससे पहले आरपीएन सिंह ने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को अपना इस्तीफा सौंपा था. इसकी जानकारी उन्होंने खुद ट्ववीट कर दी. इसके बाद वे नई दिल्ली स्थित बीजेपी दफ्तर पहुंचे और पार्टी की सदस्यता ग्रहण की. इस दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेंद्र प्रधान, ज्योतिरादित्य सिंधिया, यूपी के डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य और बीजेपी प्रदेशाध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह मौजूद रहे.

SP के उम्मीदवारों की लिस्ट पर केशव मौर्य बोले- प्रत्याशियों की सूची नई, अपराधी वहीं

स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ चुनाव लड़ सकते हैं आरपीएन सिंह

रतनजीत प्रताप नारायण सिंह यानी आरपीएन सिंह 1996 से लेकर 2009 तक यूपी के कुशीनगर जिले की पडरौना विधानसभा सीट से कांग्रेस के विधायक रहे. उसके बाद 2009 के लोकसभा चुनाव में उन्होंने तत्कालीन बसपा नेता और वर्तमान में समाजवार्दी पार्टी में शामिल स्वामी प्रसाद मौर्य को हराया था. इसे ध्यान में रखते हुए बीजेपी आगामी चुनाव आरपीएन सिंह को स्वामी प्रसाद मौर्य के खिलाफ चुनावी मैदान में उतार सकती है.

 

 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें