बैक एफडी से कम समय में चाहिए ज्यादा रिटर्न? आपके पास मौजूद हैं ये चार विकल्प

Atul Gupta, Last updated: Fri, 12th Nov 2021, 1:23 PM IST
  • अगर आप बैंक एफडी से कम समय में ज्यादा पैसे कमाना चाहते हैं तो ये खबर आपके लिए है. बाजार में ऐसे निवेश विकल्प मौजूद हैं जहां पैसा डालकर आप कम समय में ज्यादा पैसा कमा सकते हैं. आइए जानते हैं इन विकल्पों के बारे में..
एफडी से ज्यादा निवेश के चार विकल्प (सांकेतिक तस्वीर)

लखनऊ: सुरक्षित निवेश की बात होता है तो लोग कहते हैं बैंक में एफडी करा लो. सबसे बढ़िया यही स्कीम है पैसे डबल करने की लेकिन ऐसा बिलकुल नहीं है. समय के साथ-साथ निवेश के विकल्प बढ़े हैं और आज बाजार में एक से बढ़कर एक स्कीम हैं जिसमें पैसा डालकर आप एफडी से कम समय में ज्यादा पैसे कमा सकते हैं. ऐसी ही कुछ स्कीम के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं. सबसे पहले तो ये जान लीजिए कि पिछले कुछ सालों में बैंकों ने सेविंग्स पर इंट्रेस्ट घटा दिए हैं. इसलिए बैंकों में सेविंग करना सबसे आखिरी उपाय है. हालांकि भविष्य के लिए सेविंग होना बहुत जरूरी है. चाहे आपको मकान लेना हो या फिर गाड़ी या फिर कोई और खर्च. आपकी सेविंग ही आपकी सबसे बड़ी पूंजी साबित होती है.

आपको सेविंग कहां करनी चाहिए या आपके पास एफडी के अलावा सेविंग के क्या विकल्प मौजूद हैं इस बारे में हम आपको बताएंगे. सबसे पहले ये जान लीजिए कि एफडी से ज्यादा रिटर्न वाली स्कीम मार्केट में मौजूद है इसलिए सोच समझकर निवेश करें. ऐसे ही कुछ निवेश के बारे में हम आपको बताने जा रहे हैं.

डेब्ट फंड-अगर आप थोड़ा रिस्क ले सकते हैं तो आपको डेब्ट फंड में निवेश करना चाहिए. यहां इस बात की गारेंटी नहीं है कि आपको कितना पैसा मिलेगा क्योंकि ये बाजार के अनुसार चलता है. अगर आप सही समय पर सही निवेश करेंगे तो आप एफडी से कहीं ज्यादा पैसा कम समय में कमा सकते हैं. डेब्ट फंड में भी कई कैटेगिरी है जो आपकी शॉर्ट टर्म जरूरतों को पूरा कर सकता है जैसे- लिक्विड फंड, अल्ट्रा शॉर्ट डयूरेशन फंड और मनी मार्केट फंड आदि. 16 डेब्ट फंड कैटेगिरी में ये चार कैटेगिरी आपके काम की हो सकती है जिसमें निवेश भी काफी हद तक सुरक्षित रहता है साथ ही लिक्विडिटी यानी जब आप पैसा चाहें तब आप उसे निकाल पाएं.

लिक्विड फंड-लिक्विड फंड में मनी मार्केट सिक्योरिटी में पैसा लगता है जिसमें 91 दिन के बाद पैसा निकाला जा सकता है.

अल्ट्रा शॉर्ट डूरेशन फंड- अल्ट्रा शॉर्ट-टर्म म्यूचल फंड वो फंड होते हैं जो निश्चित निवेश पर 6 महीने के लॉक इन पीरियड पर रिटर्न्स देते हैं.

लो डूरेशन फंड- डेब्थ और मनी मार्केट में निवेश होने वाला ये फंड 6 से 12 महीने के बीच होता है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें