लखनऊ में डॉक्टर की तस्वीर व्हॉट्सएप पर लगाकर मरीजों से ठगी,फोन पर भी कराई बात

Smart News Team, Last updated: 09/10/2020 08:59 PM IST
  • इलाज में बेहतरी के नाम पर महिला से मिले आश्वासन पर बीमार के परिजनों ने महिला को 50 हजार दे दिए. लेकिन बार-बार पैसे मांगने पर परिजनों ने तंग होकर अस्पताल में हंगामा शुरु कर दिया. परिजनों के कहने पर अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को बुलाकर महिला के खिलाफ मामला दर्ज करवाया.
बेहतर इलाज के नाम ठगी करने वाली महिला गिरफ्तार (फाइल फोटो)

लखनऊ.सिविल अस्पताल में बेहतर इलाज दिलाने के नाम पर 50 हजार की ठगी का मामला सामने आया है. जिसमें एक महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है. इलाज में बेहतरी के नाम पर महिला से मिले आश्वासन पर बीमार के परिजनों ने महिला को 50 हजार दे दिए. लेकिन बार-बार पैसे मांगने पर परिजनों ने तंग होकर अस्पताल में हंगामा शुरु कर दिया जिसके बाद पूरे मामले की पोल खुली और आरोपी महिला के खिलाफ धोखाधड़ी का मामला दर्ज कर लिया गया.

बलरामपुर की रहने वाली महिला को पेट संबंधी परेशानी हुई जिसके लिए उसने स्थानीय डॉक्टरों से इलाज करवाया. लेकिन इसका कोई फायदा नहीं हुआ. परिजनों को गांव की एक महिला ने राजधानी के सिविल अस्पताल में बेहतर इलाज कराने का आश्वासन दिया. महिला के बहकावे में आकर परिजनों ने 50 हजार रुपये दे दिए लेकिन महिला ने बार-बार पैसों की मांग करनी शुरु कर दी. जिसके बाद परिजनों के कहने पर अस्पताल प्रशासन ने पुलिस को बुलाकर महिला के खिलाफ मामला दर्ज करवाया.

50 लाख दिए उधार! वापस मांगने पर मिली धमकी, पत्नी संग ट्रांसपोर्टर ने की सुसाइड

मामले पर डॉ. मधु सक्सेना के बताया है कि महिला ने धोखा देने के लिए अपने बेटे का नम्बर डॉ. आरपी सिंह के नाम से सेव कर रखा था. अस्पताल के डॉक्टर की फोटो का गलत इस्तेमाल किया है. आरोपी ने सिविल अस्पताल के डॉक्टर व पूर्व सीएमओ की तस्वीर अपने बेटे के मोबाइल के वॉट्सएप डीपी पर लगाकर पीड़ित परिवार से 50 हजार की वसूली की.

कांशीराम पुण्यतिथि: मायावती का इशारा- विपक्षी पार्टियों से चंदा लेती है भीम आर्मी

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें