लखनऊ: UP में भी साबरमती की तर्ज पर गंगा रिवर फ्रंट बनाने की तैयारी

Smart News Team, Last updated: 18/09/2020 07:57 AM IST
  • यूपी सरकार गुजराज के साबरमती रिवर फ्रंट की तर्ज पर उत्तर प्रदेश में भी गंगा किनारे बसे शहरों में गंंगा रिवर फ्रंट विकसित करने की तैयारी कर रही है. इसके लिए प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार ने विकास प्रधिकरणों के उपाध्यक्षों से अध्ययन कर प्रस्ताव उपलब्ध कराने को कहा है.
UP में भी साबरमती की तर्ज पर गंगा रिवर फ्रंट बनाने की तैयारी.

लखनऊ. यूपी सरकार अब साबरमती रिवर फ्रंट की तर्ज पर गंगा किनारे वाले शहरों प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर में रिवर फ्रंट विकसित कराएगी. इसमें गंगा नदी के किनारे पार्क, बच्चों के लिए झूले और रेस्टोरेंट आदि बनाए जाएंगे. इस बारे में प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार ने विकास प्रधिकरणों के उपाध्यक्षों से अध्ययन कर प्रस्ताव उपलब्ध कराने को कहा है. यूपी सरकार का मानना है कि गंगा नदी के किनारे रिवर फ्रंट विकसित करने से राज्य में पर्यटन को बढ़ावा मिलेगा. 

अब वाराणसी में मंडुआडीह रेलवे स्टेशन का नाम बदलने की तैयारी, ये होगी नई पहचान

वाराणसी और प्रयागराज जैसे गंगा किनारे बसे शहरों में बड़ा संख्या में पर्यटक घूमने आते हैं. ऐसे में रिवर फ्रंट बनने के बाद वाराणसी, प्रयागराज और कानपुर आने वाले पर्यटकों को घूमने और बैठने के लिए एक बेहतर विकल्प उपलब्ध होगा. प्रमुख सचिव आवास ने विकास प्रधिकरण के उपाध्यक्षों को निर्देश दिया है कि कितने एरिया में रिवर फ्रंट बनाया जाएगा, क्या-क्या सुविधाएं दी जाएंगी इसका अध्ययन कर प्रस्ताव तैयार करें और शासन को उपलब्ध कराए. उसी के आधार पर बजट की व्यवस्था की जाएगी. 

डीजल रेल इंजन कारखाने में लगी आग, भारी नुकसान, क्रेन की मदद से तोड़ी खिड़कियां

इसके अलावा विकास प्रधिकरण के उपाध्यक्षों को यह भी निर्देश दिया गया है कि रिवर फ्रंट विकसित करने के लिए निजी क्षेत्र का भी सहारा लिया जा सकता है. इसके लिए स्थानीय स्तर पर भी कोशिश की जा सकती है या टेंडर निकाल कर प्रपोजल मांगा जा सकता है. इसका मकसद राज्य में पर्यटन को बढ़ावा देना  है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें