25 करोड़ के 13 प्लॉट की निकली फर्जी रजिस्ट्री, एलडीए ने कराई FIR, मास्टरमाइंड सस्पेंड

Swati Gautam, Last updated: Sat, 9th Oct 2021, 12:00 AM IST
  • भू माफिया और एलडीए कर्मचारियों ने ढाई महीने के अंदर एलडीए के 25 करोड़ के 13 प्लॉट की फर्जी रजिस्ट्री करा ली. सभी प्लॉट गोमती नगर के हैं. एलडीए ने इस मामले में गोमती नगर थाने में देर रात एफआईआर दर्ज कराई. पुलिस ने जांच एक दौरान मास्टरमाइंड बाबू को सस्पेंड कर दिया बाकी माफियाओं की तलाश जारी है.
25 करोड़ के 13 प्लॉट की निकली फर्जी रजिस्ट्री, एलडीए ने कराई FIR, मास्टरमाइंड सस्पेंड

लखनऊ. आए दिन माफियाओं द्वारा भूखंडों की फर्जी रजिस्ट्री कराने के मामले सामने आते रहते हैं. राज्य में कई माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई का क्रम जारी है. ऐसा ही एक मामला गोमती नगर से आया है जहां भू माफिया और एलडीए कर्मचारियों ने सिर्फ ढाई महीने में एलडीए के करीब 25 करोड़ के 13 भूखंडों की फर्जी रजिस्ट्री करा ली. मामला थाने पहुंचा तो तुरंत जांच शुरू कर दी गई जिसमें शामिल एक मास्टरमाइंड बाबू को सस्पेंड भी कर दिया गया है.

एलडीए को जैसे ही इस फर्जी रजिस्ट्री के जाल के बारे में भनक लगी तो एलडीए ने इस मामले में गोमती नगर थाने में देर रात एफ आई आर दर्ज कराई. जिसके बाद पुलिस एक्शन में आ गई मामले की जांच में जुट गई. जानकारी अनुसार देर रात तक अधिकारी जांच में जुटे रहे. जांच के दौरान एक मास्टरमाइंड को सस्पेंड कर दिया गया साथ में कई के खिलाफ जांच शुरू हो गई है. पुलिस की कोशिश है कि जल्द ही इस मामले में शामिल सभी माफियों को पकड़ लिया जाए.

UP में बिजली संकट! कोयला की कमी, पावर प्लांट्स ने उत्पादन 7478 मेगावाट घटाया

मामले की जांच के दौरान पुलिस को पता चला कि जिन भूखंडों की फर्जी रजिस्ट्री हुई है वह सभी गोमतीनगर के हैं और इस महीने भी एक भूखंड की फर्जी रजिस्ट्री हुई है. इस फर्जीवाड़े को देखते हुए एलडीए ने इन भूखंडों को दोबारा बेचने पर रोक लगा दी है. जिसके चलते रजिस्ट्रार को पत्र भी लिख दिया गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें