गोमती रिवर फ्रंट घोटाले में CBI का बड़ा एक्शन, UP में कई जगह की गई छापेमारी

Smart News Team, Last updated: Mon, 5th Jul 2021, 10:52 AM IST
  • सपा कार्यकाल के रिवर फ्रंट विकास घोटाले को लेकर सीबीआई की एंटी करप्शन टीम ने यूपी समेत राजस्थान और बंगाल में 40 जगह पर छापेमारी की है.
सीबीआई ने यूपी समेत कई राज्यों में गोमती रिवर फ्रंट घोटाले को लेकर छापेमारी की.

लखनऊ. यूपी चर्चित गोमती रिवर फ्रंट स्कैम को लेकर सीबीआई एक्शन में आ गई है. सपा सरकार के कार्यकाल में हुए घोटाले को लेकर सीबीआई टीम ने कई जगहों पर छापेमारी की है. यूपी के गाजियाबाद, लखनऊ, आगरा समेत साथ राजस्थान और पश्चिम बंगाल में 40 जगहों पर सीबीआई एंटी करप्शन टीम ने रेड डाली है. सीबीआई ने 190 लोगों पर केस दर्ज किया है. जिसमें कई सरकारी अधिकारियों समेत कई अज्ञात लोगों पर मुकदमा किया गया है.

लखनऊ में गोमती रिवर फ्रंट के लिए सपा सरकार ने 15 सौ करोड़ रुपए मंजूर किए थे. जिसमें 1437 करोड़ रुपए जारी किए गए थे लेकिन काम सिर्फ 60 फीसदी ही हुआ. रिवर फ्रंट का काम करने वाली संस्थाओं ने 95 फीसदी का बजट इस्तेमाल कर लिया लेकिन काम 60 फीसदी ही किया गया. 

अखिलेश यादव का BJP पर हमला, कहा- यूपी में सिर्फ महंगाई और भ्रष्टाचार का बोलबाला 

योगी सरकार जब 2017 में सत्ता में आई तो रिवर फ्रंट की जांच का आदेश दिया गया था. न्यायिक आयोग गठित करके जांच की जा रही थी. जांच में सामने आया कि डिफॉल्टर कंपनी को ठेका देने के लिए टेंडर की शर्तों में बदलाव किया गया था. रिवर फ्रंट प्रोजेक्ट में करीब 800 टेंडर निकाले गए थे. टेंडर को लेकर अधिकार चीफ इंजीनियर के पास था.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें