गोमती नदी के दोनों किनारों पर दिवाली तक शुरू होगा ग्रीन कॉरिडोर का निर्माण

Smart News Team, Last updated: Fri, 18th Jun 2021, 11:40 PM IST
  • लखनऊ में गोमती नदी के किनारे ग्रीन कॉरिडोर का निर्माण इस साल के आखिरी तक शुरू हो जाएगा. नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन गोपाल ने शुक्रवार को बैठक कर निर्माण जल्द से जल्द शुरू करने के निर्देश दिए हैं.
गोमती नदी के किनारे बनेगा ग्रीन कॉरिडोर, दिवाली से शुरू होगा काम.

लखनऊ. दिवाली तक गोमती नदी के दोनों किनारों पर ग्रीन कॉरिडोर के निर्माण का कार्य शुरू हो जाएगा. जिसको लेकर शुक्रवार को नगर विकास मंत्री आशुतोष टंडन गोपाल ने परियोजना की समीक्षा बैठक की. बैठक में उन्होंने दीवाली तक किसी भी हालत में ग्रीन कॉरिडोर का निर्माण शुरू करने के निर्देश दिए. साथ ही कहा कि परियोजना के लिए बजट की कमी नहीं होगी. बता दें कि इसके निर्माण में नगर निगम, एलडीए, लोक निर्माण विभाग तथा सिंचाई विभाग सहित अन्य विभाग भी मदद करेंगे.

शुक्रवार को हुई बैठक में मंत्री आशुतोष टंडन समेत लखनऊ के कमिश्नर रंजन कुमार, प्रमुख सचिव आवास दीपक कुमार, प्रमुख सचिव नगर विकास डॉ रजनीश दुबे, एलडीए उपाध्यक्ष अभिषेक प्रकाश सहित सभी विभागों के अधिकारी मौजूद थे. बता दें कि गोमती नदी के किनारे ग्रीन कॉरिडोर के निर्माण को मुख्यमंत्री पहले ही मंजूरी दे चुके हैं. इसके लिए टाटा कंसलटेंसी इंजीनियरिंग को जिम्मेदारी दी गई है. उन्होंने डीपीआर बनाने का काम शुरू कर दिया है. एलडीए ने परियोजना के क्रियान्वयन के लिए प्रोजेक्ट इंप्लीमेंटेशन यूनिट भी बना दी है.

ग्रीन कॉरिडोर के परियोजना का काम दो चरणों में पूरा किया जाएगा. पहले चरण में आई आई एम रोड से शहीद पथ तक नदी के दोनों किनारों पर चार चार लेन की रोड बनाई जाएगी जबकि दूसरे चरण में शहीद पथ से किसान पथ तक गोमती नदी के दोनों किनारों पर सड़क बनेगी. 

अखिलेश यादव ने बगावत करने वाले दो नेताओं को सपा से किया 6 सालों के लिए निष्कासित

बता दें कि गोमतीनदी के ऊपर चार लेन सड़क बनाने पर प्रस्तावित खर्च 1282.83 करोड़ तक होगा. जिसकी लम्बाई 25.20 किलोमीटर होगी. नदी किनारे बनने वाले फ्लाईओवर की लम्बाई-7.35 किलोमीटर तय की गई है.

इसमें जमीन अधिग्रहण पर खर्च 500 करोड़ होगा और तटबंध बनाने के लिए पहले चरण में 113.70 हेक्टेयर जमीन और दूसरे चरण में 58.9 हेक्टेयर जमीन की जरुरत होगी. साथ ही 36 स्थानों पर बैरल बनाए जाएंगे. बताया गया कि बंधे के निर्माण पर कुल 1040.83 करोड़ रुपए खर्च होगा. 

बिना RTO टेस्ट दिए अब मिलेगा नया ड्राइविंग लाइसेंस, जानिए क्या है तरीका

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें