सपा MLC वासुदेव यादव की बढ़ी मुश्किलें, शासन ने दी विजलेंस टीम को मुकदमा दर्ज करने की अनुमति

Smart News Team, Last updated: 07/03/2021 10:20 AM IST
  • शासन ने विजलेंस टीम को सपा एमएलसी वासुदेव यादव के ऊपर आय से अधिक मामले में मुकदमा दर्ज करने की अनुमति दे दी है. वही प्रारम्भिक जांच में शिकायते भी सही पाई गई है.
सपा MLC वासुदेव यादव की बढ़ी मुश्किलें, शासन ने दी विजलेंस टीम को मुकदमा दर्ज करने की अनुमति

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के एमएलसी वासुदेव यादव की मुश्किलें और भी बढ़ने वाली है. दरअसल शासन ने वासुदेव यादव के खिलाफ आय से अधिक सम्पत्ति रखने के मामले में जांच के आदेश दे दिए है. साथ ही मुकदमा भी दर्ज करने के लिए कहा है. शासन ने ये अनुमति उत्तर प्रदेश सतर्कता अधिष्ठान यानी विजलेंस टीम ने वासुदेव यादव के खिलाफ जांच करके मुकदमा दर्ज करने की मांग पर दी है. वही आपको बता दे कि वासुदेव यादव सपा के सरकार में शिक्षा निदेशक के पद से सेवानिवृत्त होने के बाद सपा से ही एमएलसी बने है.

इससे पहले विजलेंस टीम को वासुदेव के खिलाफ 2017 में शिकायत मिलने के बाद शासन ने जांच करने की अनुमती दी थी. जिसमे प्रारंभिक जांच में शिकायतें सही पाई गई थी. जिसके बाद टीम को खुली जांच के आदेश दे दिया गया था. जिसके बाद विजलेंस टीम ने अपनी पूरी जांच करने के बाद शासन को सौप दी है. साथ ही आय से अधिक मामले में उनपर मुकदमा दर्ज करने की मांग भी की थी. जिसे अब शासन ने टीम को दे दिया है.

यूपी में बेसिक शिक्षा को लेकर बड़े ऑपरेशन की तैयारी, योगी सरकार ने उठाया ये कदम

जानकारी के अनुसार वासुदेव यादव 2014 में शिक्षा निदेशक के पद से रिटायर हुए थे. वही इससे पहले वह बेसिक शिक्षा परिषद के सचिव पद पर भी रह चुके है. शिक्षा निदेशक और सचिव पद पर रहते हुए उनपर भ्रष्टाचार करने का आरोप लगा था. इतना ही नहीं उनपर यह भी आरोप लगा था कि सपा की सरकार में उन्हें शिक्षा निदेशक बनाने के लिए मानकों में बदलाव किया गया था. साथ ही उनके खिलाफ शिकायत की गई थी कि प्रयागराज, वाराणसी, लखनऊ, नोएडा और गाजियाबाद में भ्रष्टाचार कर सम्पत्तियां बनाई है.

अब दुनिया भर में चुकंदर,खजूर और नारियल से चीनी बनेगी, मिलेंगे ईंधन के नए विकल्प

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें