अच्छी खबर: चुनाव से पहले राज्य कर्मचारियों को मिलेगा तीन वेतन वृद्धि और महंगाई भत्ता

Smart News Team, Last updated: Sat, 12th Jun 2021, 7:44 AM IST
  • कोरोना के कारण राज्य कर्मचारियों के बंद किए गए वेतन वृद्धि और महंगाई भत्ता के भुगतान चुनाव से पहले किए जाने की उम्मीद है. इस फैसले से राज्य के लगभग 15 लाख राज्य कर्मचारियों को लाभ मिलेगा. वेतन वृद्धि और महंगाई भत्ता के भुगतान से सरकार के खजाने पर करीब 3000 हजार के व्ययभार आएगा.
यूपी के सरकारी कर्मचारियों को वेतन वृद्धि और महंगाई भत्ता चुनाव से पहले मिलने की उम्मीद.( सांकेतिक फोटो )

लखनऊ: साल 2020 की शुरुआत से बंद चल रहे राज्य कर्मचारी का वेतन वृद्धि भत्ता अगले सात में मिल जाएगा. जिसका लाभ राज्य के लभगभ 15 लाख कर्मचारियों को मिलेगा. साथ ही राज्य कर्मचारियों को सालाना वेतन वृद्धि मिलना भी तय हुआ है. अगले महीने यानि जुलाई में तीन फीसदी सालाना वेतन वृद्धि का लाभ मिलने की उम्मीद है. बता दें पिछले साल कोरोना संक्रमण के कारण सरकार ने जनवरी 2020, जुलाई 2020 और जनवरी 2021 के महंगाई भत्ते पर सरकार ने रोक लगा दी थी. कर्मचारियों का 4 फीसदी डीए अक्टूबर-नवंबर तक मिलने की उम्मीद है.

कोरोना संक्रमण के बाद सरकार ने यह घोषणा की थी, कि जुलाई 2021 के महंगाई भत्ता के साथ ही जनवरी 2020, जुलाई 2020 और जनवरी 2021 के महंगाई भत्ता को जोड़ा जाएगा. इन तीनों महंगाई भत्ते का जोड़ करीब 11 फीसदी होता है. जिसे विधानसभा चुनाव से पहले दिए जाने की उम्मीद है. जैसे ही केंद्र सरकार डीए व डीआर देने की अधिसूचना जारी करेगी उसके बाद राज्य सरकार भी अपनी घोषणाएं कर देगी. उम्मीद जताई जा रही है कि सरकार डीए व डीआर के इस किश्त का भुगतान अक्टूबर-नवंबर तक कर सकती है.

यूपी बोर्ड छात्रों के पास नाम में गलती सुधारने का मौका, दो दिन खुलेगी वेबसाइट

सरकार ने बजट में डीए और वेतन वृद्धि के भुगतान का इंतजाम किया है. बताया जा रहा है. जुलाई में डीए/ डीआर और सालाना वेतन वृद्धि के भुगतान पर राज्य सरकार के खजाने पर करीब तीन हजार करोड़ रुपये का व्ययभार आएगा.

उत्तर प्रदेश सचिवालय संघ के अध्यक्ष यादवेंद्र मिश्र ने कहा है कि प्रदेश सरकार 18 महीने से बाधित महंगाई भत्ता की तीन किश्तों का भुगतान एकमुश्त करने संबंधी अपने वादे को अगले महीने तक पूरा करे. कोरोना के कारण कर्मचारी दिक्कतों में हैं, इसलिए अब महंगाई भत्ते की किश्त का भुगतान समय से किया जाना जरूरी है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें