यूपी IAS अधिकारियों की तैनाती में सरकार करेगी फेरबदल, नई जगह होंगे ट्रांसफर

Smart News Team, Last updated: Sun, 10th Jan 2021, 4:57 PM IST
  • उत्तर प्रदेश के कई जिलों में डीएम और मंडल आयुक्त के बेहतर तरीके से काम न करने पाने के कारण वह अपनी ज़िम्मेदारी निभाने में फेल हो गए हैं या फिर उनके खिलाफ शिकायत मिलने के कारण उन्हें कहीं और तैनात किया जा सकता है.
यूपी IAS अधिकारियों की तैनाती में सरकार करेगी फेरबदल, नई जगह होंगे ट्रांसफर

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में आईएएस अधिकारी के पद पर तैनात कई अफसरों की तैनाती में बड़े फेरबदल की तैयारी की गई है. उत्तर प्रदेश के कई जिलों में डीएम और मंडल आयुक्त के बेहतर तरीके से काम न करने पाने के कारण वह अपनी ज़िम्मेदारी निभाने में फेल हो गए हैं या फिर उनके खिलाफ शिकायत मिलने के कारण उन्हें कहीं और तैनात किया जा सकता है. इसके साथ ही सचिवालय में तैनात कई और प्रमुख सचिवों की जिम्मेदारियों में बदलाव किए जा सकते हैं.

राज्य सरकार के मुताबिक जनता के हितों के लिए काम न करने वाले अफसरों को जिले में रहने का कोई अधिकार नहीं है. इसके साथ ही तमाम दागी और शिकायत वाले अफसरों के ऊपर भी गाज गिर सकती है. प्रदेश के नियुक्ति विभाग ने इस दिशा में काम करने के लिए आदेश दे दिया है. बताया जा रहा है कि अधिक प्रभार के अफसरों से जिम्मेदारी को कम कर के अकेला प्रभार देने के लिए काम चल रहा है, जिससे अफसर सही तरीके से काम कर सकेंगे ओर सरकारी योजनाओं का भी लाभ पात्रों को मिल सकेगा.

श्रीराम मंदिर निर्माण के लिए मकर संक्रांति से शुरू होगा धन संग्रह, कूपन जारी

सचिवालय स्तर पर अभी भी कई ऐसे अधिकारी हैं जिनके पास एक साथ कई अन्य विभागों का प्रभार है। इसके चलते उनका काम काफी हद तक प्रभावित हो रहा है। खासकर बड़े विभागों को लेकर प्रभार हटाने पर विचार किया जा रहा है। इसके साथ ही हाल ही में सचिव से प्रमुख सचिव और विशेष सचिव से सचिव बनने वाले अधिकारियों को नई तैनाती दी जा सकती है क्योंकि एक ही विभाग में दो-दो प्रमुख सचिव होने पर काम करने के तरीके को लेकर असहज स्थिति पैदा हो सकती है। इसीलिए अपर मुख्य सचिव के साथ कुछ प्रमुख सचिव लगाए जा सकते हैं या फिर उन्हें अलग प्रभार दिए जाने पर विचार किया जाएगा.

लखनऊ: सड़कों पर बनेगी पीली पट्टी, ट्रैफिक पुलिस के नियम तोड़ने पर लगेगा जुर्माना

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें