हज यात्रा 2021 के लिए संभावित खर्चे में की गई कटौती, आवेदन तारीख भी बढ़ी

Smart News Team, Last updated: 10/12/2020 09:21 PM IST
  • हज समिति ने है यात्रा में संभावित खर्चे में कटौती की है और आवेदन करने की तिथि को भी बढ़ा दिया है. अब हज यात्रा के लिए जाने वाले दस जनवरी तक आवेदन कर सकते हैं. 10 दिसंबर तक करीब 4500 आवेदकों ने ही अपने आवेदन जमा किये हैं जो की अंतिम तारिख थी. इससे पहले के वर्षो में करीब लखनऊ से तीस हज़ार यात्री हज यात्रा पर जाते थे. इसलिए अब इस तारीख को बढ़ाकर 10 जनवरी कर दिया है.
हज समिति ने यात्रा में संभावित खर्चे में कटौती की है और आवेदन करने की तिथि को भी बढ़ा दिया है.

लखनऊ. मुकद्दस हज यात्रा जाने वाले यात्रियों के लिए हज समिति ने यात्रा में संभावित खर्चे में कटौती की है और आवेदन करने की तिथि को भी बढ़ा दिया है. अब हज यात्रा के लिए जाने वाले दस जनवरी तक आवेदन कर सकते हैं. हिन्दुस्तान समाचार पत्र ने  संभावित खर्चे को लेकर आवेदकों में कमी होने की खबर बीते आठ दिसम्बर को प्रकाशित की थी. आज हज समिति ने संभावित खर्च में कटौती का ऐलान कर दिया है. हाल ही में कोविड-19 के कारण किराया बढाया गया है जिसके बाद से आवेदन की कमी आई थी.

हज समिति के सचिव ने राहुल गुप्ता ने कहा है कि मुंबई हज हाउस में हज समिति के अधिकारियों के साथ केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नक्वी की बैठक के बाद हज यात्रा की अंतिम तिथि के बदलाव किया गया है. साथ ही हज यात्रा के संभावित खर्चे में कटौती के साथ बिना मेहरम के ग्रुप को लाटरी प्रक्रिया से मुक्त किया गया है. हज समिति ने पहले है यात्रा का संभावित खर्चा पांच लाख सत्तर हज़ार दिया था और जिसे घटाकर पांच लाख पच्चीस हजार रूपए किया गया है. आवेदकों की कमी को देखते हुए ये फैसला लिया गया है.

लखनऊ फुटबाल लीग: ब्रायन इलेवन ने शिव अकादमी को 5-0 से हराया

10 दिसंबर तक करीब 4500 आवेदकों ने ही अपने आवेदन जमा किये हैं जो की अंतिम तारिख थी. इससे पहले के वर्षो में करीब लखनऊ से तीस हज़ार यात्री हज यात्रा पर जाते थे. इसलिए अब इस तारीख को बढ़ाकर 10 जनवरी कर दिया है. जानकारी दे कि हज 2021 के लिए 7 नवम्बर  2020 को 18 वर्ष से कम और 65 वर्ष की आयु से अधिक के आवेदक आवेदन नहीं कर सकते हैं. इसी तरह कैंसर, हृदय रोग, गुर्दा सहित अन्य गंभीर बीमारियों के मरीज और गर्भवती महिलाएं भी हज यात्रा के लिए आवेदन नहीं कर सकते.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें