हाथरस गैंगरेप: कड़ी सुरक्षा के बीच पीड़िता का परिवार इलाहाबाद HC में होगा पेश

Smart News Team, Last updated: Mon, 12th Oct 2020, 1:48 PM IST
  • हाथरस गैंग रेप पीड़िता के परिवार के सदस्य आज लखनऊ पहुंचेंगे. पीड़िता का परिवार आज इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ बेंच के सामने पेश होगा. कड़ी सुरक्षा के बीच उन्हें हाथरस के गांव से लखनऊ ले जाया जा रहा है.  
हाथरस गैंगरेप: कड़ी सुरक्षा के बीच पीड़िता का परिवार इलाहाबाद HC में होगा पेश

लखनऊ. हाथरस गैंग रेप पीड़िता के परिवार के सदस्य आज इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ बेंच के सामने पेश होंगे. हाई कोर्ट की लखनऊ बेंच के सामने पेश होने के लिए पीड़िता परिवार को कड़ी सुरक्षा के बीच लखनऊ ले जाया जा रहा है. कथित तौर पर चार आरोपियों ने किए गैंग रेप के बाद 19 वर्षीय मृतका दलित लड़की के परिवार के सदस्य इलाहाबाद उच्च न्यायालय की लखनऊ पीठ के सामने पेश होने के लिए लखनऊ के लिए रवाना हो गए हैं.

एसडीएम, अंजलि गंगवार ने कहा कि मैं उनके साथ जा रही हूं. सुरक्षा के उचित प्रबंध किए गए हैं. जिला मजिस्ट्रेट (डीएम) और पुलिस अधीक्षक (एसपी) भी हमारे साथ हैं. गौरतलब हो की सुनवाई व्यक्तिगत रूप से आयोजित किए जाने की संभावना है. कड़ी सुरक्षा के बीच अदालत ने हाथरस जिला प्रशासन को परिवार की यात्रा की व्यवस्था करने का आदेश दिया था. 

हाथरस केस: योगी सरकार को बदनाम करने के लिए पाकिस्तान से किए गए ट्वीट्स,जांच जारी

हाथरस मामले में पीड़िता के परिजनों की आज होने वाली उपस्थिति को देखते हुए हाईकोर्ट परिसर के भीतर की भी सुरक्षा व्यवस्था चुस्त. सवा दो बजे होगी सुनवाई. फिजिकल हियरिंग के द्वारा होगी सुनवाई. सिर्फ हाथरस मामले की होगी फिजिकल हियरिंग. अन्य मामलों की वीडियो कांफ्रेंसिंग से ही होगी सुनवाई. हाथरस की पीड़िता का परिवार लखनऊ में हाईकोर्ट के नजदीक उत्तराखंड भवन पहुंचा. उत्तराखंड भवन और हाईकोर्ट के बाहर भारी सुरक्षा व्यवस्था की गई है. 

इस बीच, यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने हाथरस मामले की सीबीआई जांच की सिफारिश करने के एक हफ्ते बाद, केंद्रीय एजेंसी ने रविवार को आईपीसी की धारा 376 डी (सामूहिक बलात्कार), 307 (हत्या का प्रयास) और 302 (हत्या), एससी / एसटी एक्ट के 3 (अत्याचार के अपराध) के तहत प्राथमिकी दर्ज की. एफआईआर दर्ज करने के घंटों बाद, सीबीआई की एक टीम हाथरस पहुंची और पुलिस अधीक्षक से मुलाकात की.

मिशन शक्ति के तहत, महिला सुरक्षा को बनाएं जनांदोलन: UP सीएम योगी आदित्यनाथ

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें