हाथरस गैंगरेप पीड़िता का हुआ अंतिम संस्कार, गांव में पुलिस और PAC तैनात

Smart News Team, Last updated: Wed, 30th Sep 2020, 10:31 AM IST
  • हाथरस गैंगरेप पीड़िता का शव उसके गांव ले जाया गया. पीड़िता का अंतिम संस्कार आधी रात को कर दिया गया. 19 साल की लड़की से सामूहिक बलात्कार के बाद प्रशासन हाई अलर्ट पर है और पुलिस और पीएसी को गांव में तैनात किया हुआ है.
हाथरस गैंगरेप पीड़िता का हुआ अंतिम संस्कार, गांव में पुलिस और PAC तैनात

हाथरस. हाथरस गैंगरेप पीड़िता के शव को मंगलवार को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल से हाथरस उसके गांव ले जाया गया और वहीं आधी रात को अंतिम संस्कार किया गया. पुलिस प्रशासन पर आरोप है कि उन्होनें पीड़िता के शव को जबरन जलाया है. परिवार की गैर मौजूदगी में रात 2.30 बजे शव का अंतिम संस्कार कर दिया गया. इस बात को लेकर ग्रामीणों में आक्रोश है. पीड़िता के घर-गांव में बवाल होने की आशंका को लेकर प्रशासन हाई-अलर्ट पर है. गांव में पुलिस और पीएसी को तैनात कर दिया गया है. हर आने-जाने वाले की जानकारी ली जा रही है.

पीड़िता का शव मंगलवार की देर रात 12.45 पर हाथरस पहुंचा था. जहां पुलिस उसे अंतिम संस्कार के लिए लेकर जा रही थी. ग्रामीण इस बात से आक्रोश में आ गए और एंबुलेंस के आगे लेट गए. पीड़िता के चाचा का आरोप है कि पुलिस ने उनपर अंतिम संस्कार करने के लिए दबाव बनाया. 

पुलिस ने उनसे कहा कि अगर तुम अंतिम संस्कार नहीं करोगे तो हम कर देंगे. पीड़िता के चाचा ने कहा कि उस दौरान पीड़िता के मां-बाप और भाई कोई भी मौजूद नहीं था. वह दिल्ली से हाथरस के रास्ते में थे. इस मामले को लेकर पुलिस और ग्रामीणों में झड़प भी हो गई. गांव वालों ने आरोप लगाया है कि एसडीएम ने भी उनके साथ बदसलूकी की थी. 

पीड़िता के शव को बिना की रीति-रिवाज के पुलिस ने 2.30 बजे बिना परिवार की मौजूदगी के जला दिया. इस मामले को लेकर यूपी पुलिस का रवैया आश्चर्य में डाल देने वाला है. पुलिस ने दावा किया है कि जीभ काटने की बात सच नहीं है. उसने खुद अपने मुंह से आरोपियों के खिलाफ बयान दिया है. 

हाथरस गैंगरेप पीड़िता के परिजन नहीं चाहते थे धरना, संगठनों ने की कोशिश: पुलिस

जानकारी के लिए बता दें कि हाथरस में अनेकों समूह के लोग पहुंच रहे हैं जिसको लेकर प्रशासन सतर्कता बरत रहा है. बता दें कि 14 सितंबर को हाथरस जिले चंदपा थाना क्षेत्र के बुलगाड़ी गांव में 19 साल की लड़की गांव के ही चार युवकों की हवस का शिकार बन गई थी. गैंगरेप आरोपी संदीप, लवकुश, रामू और रवि को सामूहिक दुष्कर्म के आरोप में गिरफ्तार कर लिया गया था. 

हाथरस गैंगरेप पीड़िता की मौत के बाद लखनऊ में कांग्रेस और सपा का कैंडल मार्च

हाथरस गैंगरेप में पीड़िता की मौत के बाद से यूपी में सियासत गर्म होती दिख रही हैं. सभी राजनीतिक पार्टियों के नेता योगी सरकार पर निशाना साध रहे हैं. मंगलवार को प्रदेश भर में जगह-जगह प्रदर्शन हुए. बसपा अध्यक्ष मायावती और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने ट्वीट कर इस मामले की कड़ी कार्ऱवाई करने की मांग की है. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें