यूपी दौरे पर गृहमंत्री अमित शाह, लखनऊ पहुंचकर फॉरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी का किया शिलान्यास

Smart News Team, Last updated: Sun, 1st Aug 2021, 12:02 PM IST
  • गृहमंत्री अमित शाह आज उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं. गृह मंत्री अमित शाह ने लखनऊ के फॉरेंसिक साइंस इंस्टीट्यूट का शिलान्यास किया है. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मौजूद रहे. यहां से वह वाराणसी और मिर्जापुर भी जाएंगे.
केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने लखनऊ की फॉरेंसिक साइंसेज यूनिवर्सिटी की रखी आधारशिला फोटो क्रेडिट (एएनआई)

लखनऊ. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज रविवार को उत्तर प्रदेश के दौरे पर हैं. यूपी के लखनऊ में गृह मंत्री अमित शाह ने उत्तर प्रदेश स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज का शिलान्यास किया. इस मौके पर उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा और केशव प्रसाद मौर्य व प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह भी मौजूद रहे. लखनऊ में गृह मंत्री अमित शाह ने 207 करोड़ की लागत वाले उत्तर प्रदेश स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज लखनऊ का शिलान्यास करके मंच से जनता को संबोधित किया.

प्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल ने स्वागत भाषण किया और इस मौके पर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने भी प्रदेश सरकार के विकास कार्यों को बताया. इसके साथ ही उत्तर प्रदेश CM योगी आदित्यनाथ ने इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज के शिलान्यास कार्यक्रम में में कहा- 2019 में गृह मंत्री बनने के बाद अमित शाह ने अपराध के संदर्भ में इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज के निर्माण का विचार उत्तर प्रदेश सरकार को दिया और आज इस इंस्टीट्यूट का शिलान्यास संपन्न हुआ.

उत्तर प्रदेश स्टेट इंस्टीट्यूट ऑफ फॉरेंसिक साइंसेज लखनऊ का शिलान्यास करके गृहमंत्री अमित शाह 1 बजकर 35 मिनट पर पिपरसंड से हेलीकॉप्टर के जरिए मिर्जापुर के लिए रवाना होंगे. केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह मिर्जापुर मां विंध्यवासिनी कॉरिडोर परियोजना का शिलान्यास करेंगे. इसके साथ ही वह विभिन्न विकास कार्यों का शिलान्यास व लोकार्पण करेंगें.

एक दिन के दौरे पर कल यूपी आ रहे हैं गृह मंत्री अमित शाह, ये रहेगा कार्यक्रम

इसके बाद अमित शाह वाराणसी के लिए प्रस्थान करेंगे और वहां भगवान विश्वनाथ मंदिर में दर्शन करेंगे. इसके साथ ही वह काशी विश्वनाथ कॉरिडोर का निरीक्षण करने भी जा सकते हैं और फिर वह दिल्ली के लिए लौटेंगे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें