देखभाल नहीं की तो बुजुर्ग मां-बाप प्रॉपर्टी वापस ले सकेंगे, नए कानून की तैयारी

Smart News Team, Last updated: Sat, 3rd Apr 2021, 5:07 PM IST
  • योगी सरकार बुजुर्ग माता-पिता की सुरक्षा के लिए एक नया कानून लाने की तैयारी में है. इस कानून के मुताबिक लापरवाही बरतने पर बुजुर्ग माता-पिता उत्तराधिकारियों से अपनी संपत्ति वापस ले सकते हैं.
नए कानून की तैयारी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश की योगी सरकार बुजुर्ग माता-पिता की सुरक्षा के लिए एक नया कानून लाने की तैयारी में है. इस कानून के मुताबिक अगर बच्चे अपने बुजुर्ग माता-पिता की देखभाल ठीक से नहीं करते हैं तो वे संपत्ति के उत्तराधिकारी नहीं बन सकेंगे.

उत्तर प्रदेश राज्य विधि आयोग ने वरिष्ठ नागरिक रखरखाव कल्याण अधिनियम-2017 में संशोधन के लिए ये प्रस्ताव मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के सामने पेश किया है. इस प्रस्ताव में लापरवाही बरतने पर बुजुर्ग माता-पिता उत्तराधिकारियों से अपनी संपत्ति वापस ले सकते हैं.

लखनऊ में कोरोना बेकाबू, श्मशान घाटों के बाहर लगी हैं शव लिए एंबुलेंस की कतारें

यूपी राज्य विधि आयोग की ओर से सरकार को सौंपे गए इस प्रस्ताव में है कि अगर कोई बुजुर्ग अपने बेटे की शिकायत करता है तो उसकी ओर से दी गई संपत्तियों को रद्द कर दिया जाएगा. इस प्रस्ताव में ये भी है कि अगर बुजुर्ग माता-पिता के घर में रहने वाले उनके बच्चे या रिश्तेदार उनकी ठीक से देखभाल नहीं करते या उनके साथ गंदा व्यवहार करते हैं, तो वे बुजुर्ग दंपति उन्हें अपने घर से निकाल सकते हैं.

लखनऊ यूनिवर्सिटी की ऑनलाइन क्लासेज़ अब 10 अप्रैल तक होंगी, डीएम से मिली अनुमति

आपको बता दें कि यूपी में बुजुर्गों के साथ इस तरह की बदसलूकी के मामले अक्सर सामने आते रहते हैं. इसी को ध्यान में रखते हुए उत्तर प्रदेश की योगी सरकार इस कानून को लाने की तैयारी कर रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें