10 रुपये का सिक्का ना लेने वालों के लिए जरूरी खबर, सरकार ने कहा- सभी वैध

Ruchi Sharma, Last updated: Thu, 10th Feb 2022, 4:03 PM IST
  • केंद्र सरकार ने संसद में एक सवाल के लिखित जवाब में स्पष्ट कर दिया है कि 10 रुपये के सिक्कों को रिज़र्व बैंक विभिन्न थीम, आकार और डिजाइन में जारी करता है और ये सभी मान्य हैं.
10 रुपये का सिक्का ना लेने वालों के लिए जरूरी खबर

लखनऊ. नोटबंदी को 4 साल से ज्यादा हो चुका है लेकिन आज भी बाजार में सभी प्रकार के सिक्के लेने से इनकार कर दिया जाता है. देश के किसी हिस्से में 10 रुपये का सिक्का नहीं चल रहा है तो कहीं 1 रुपये का छोटा सिक्का नहीं चल रहा है. अगर आपके साथ भी कुछ ऐसा ही हो रहा है तो जान लीजिए कि केंद्र सरकार ने संसद में एक सवाल के लिखित जवाब में स्पष्ट कर दिया है कि 10 रुपये के सिक्कों को रिज़र्व बैंक विभिन्न थीम, आकार और डिजाइन में जारी करता है और ये सभी मान्य हैं. जबकि भारतीय रिजर्व बैंक ने 10 रुपये के सिक्के वैध मुद्रा बताया है और सभी लेन-देन में कानूनी निविदा के रूप में इस्तेमाल किया जा सकता है. बता दें कई शहरों में इन सिक्कों को दुकानदार नहीं लेते हैं. हैरानी की बात तो यह है कि मथुरा जैसे शहर में भी यह सिक्के नहीं चलते हैं, लेकिन अब इसी सरकार नहीं करने पर कानूनी कार्रवाई हो सकती है.

वित्त राज्यमंत्री पंकज चौधरी ने संसद में एक लिखित उत्तर में कहा है कि भारत सरकार के अधिकार के तहत ढाले गए और भारतीय रिजर्व बैंक द्वारा बाजार में उतारे गए विभिन्न आकारों और डिजाइनों के 10 के सिक्के वैध मुद्रा हैं. मंत्री ने राज्यसभा में ए. विजयकुमार द्वारा उठाए गए एक सवाल का जवाब दिया कि क्या देश के कई हिस्सों में 10 रुपये के सिक्कों को नकली मानकर स्वीकार नहीं किया जा रहा है.

शादी से पहले वोट की रस्म, बूथ में पहुंचे दूल्हे, कहा- 'पहले मतदान फिर बहू'

जागरुकता के लिए आरबीआई ने चलाया अभियान

हालांकि, मंत्री ने यह भी कहा कि, “समय-समय पर आम जनता से 10 का सिक्का स्वीकार न करने के संबंध में कुछ शिकायतें मिली हैं. जनता के मन में जागरूकता पैदा करने, भ्रांतियों को दूर करने और भय को दूर करने के लिए, आरबीआई समय-समय पर प्रेस विज्ञप्ति जारी करता है, जनता से बिना किसी झिझक के अपने सभी लेनदेन में सिक्के को कानूनी निविदा के रूप में स्वीकार करने का आग्रह करता है. इसके अलावा, जनता के बीच सिक्कों की स्वीकार्यता बढ़ाने के लिए आरबीआई द्वारा राष्ट्रव्यापी एसएमएस जागरूकता अभियान और प्रिंट मीडिया अभियान भी चलाया गया.

लखीमपुर हिंसा: आशीष मिश्रा टेनी को हाई कोर्ट से मिली जमानत, जेल से आएंगे बाहर

बैंक ने निकाले 14 डिज़ाइन के सिक्के

इससे पहले, भारतीय रिजर्व बैंक ने कहा है कि कुछ व्यापारियों द्वारा सिक्कों को स्वीकार नहीं किया जाता. 10 रुपये के सिक्के के सभी 14 डिज़ाइन असली हैं. एक बयान में, केंद्रीय बैंक ने स्पष्ट किया कि वह सरकारी टकसालों द्वारा ढाले गए सिक्कों को प्रचलन में रखता है. इसमें आगे कहा गया है कि इन सिक्कों में आर्थिक, सामाजिक और सांस्कृतिक मूल्यों के विभिन्न विषयों को प्रतिबिंबित करने के लिए विशिष्ट विशेषताएं हैं और समय-समय पर इन्हें पेश किया जाता है. आरबीआई ने कहा, "अब तक रिजर्व बैंक ने 14 डिजाइनों में 10 का सिक्का जारी किया है. ये सभी सिक्के वैध मुद्रा हैं और लेनदेन के लिए स्वीकार किए जा सकते हैं."

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें