यूपी चुनाव: सपा की सरकार आई तो किसानों के लिए अलग से जारी होगा फंड- अखिलेश यादव

Ankul Kaushik, Last updated: Sun, 10th Oct 2021, 8:58 PM IST
  • यूपी विधानसभा चुनाव 2022 को देखते हुए सपा मुखिया एवं पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सहारनपुर में एक जनसभा को संबोधित किया. इस जनसभा में सपा अध्यक्ष अखिलेश ने कहा सपा की सरकार आई तो किसानों के लिए अलग से फंड जारी होगा, जिससे किसान खुशहाल और संपन्न होगा.
सहारनपुर में जनसभा को संबोधित करते सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव, फोटो क्रेडिट (सपा ट्विटर)

लखनऊ. समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष और उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने सहारनपुर में एक जनसभा को संबोधित करते हुए बीजेपी सरकार पर जमकर हमला बोला है. इस जनसभा को संबोधित करते हुए अखिलेश ने कहा कि अगर यूपी में सपा की सरकार आई तो किसानों के लिए अलग से फंड जारी होगा, जिससे किसान खुशहाल और संपन्न होगा. इसके साथ ही अखिलेश ने कहा कि प्रदेश में सपा सरकार बनते ही राजकीय मेडिकल कालेज में सुविधाएं बढाई जाएंगी. अखिलेश ने प्रदेश की योगी सरकार पर निशाना साधते हुए कहा कि अब सरकार के गिने-चुने दिन रह गए हैं और इस बार सपा 351 सीटें लेकर सरकार बनाएगी.

अखिलेश ने यह बात साहरनपुर के कस्बा तीतरो में पूर्व मंत्री स्व. चौधरी यशपाल सिंह की शताब्दी 100वीं जयंती के सामारोह पर आयोजित जनसभा में कहीं. इस जनसभा में अखिलेश ने कहा कि जो लोग किसानों को टायरों के नीचे कुचल रहे हैं वह आने वाले समय में संविधान को भी कुचलेंग. अगर साल 2019 में बीजेपी की सरकार नहीं बनती तो ये कृषि कानून नहीं आते. किसान आंदोलन पर बोलते हुए अखिलेश ने कहा कि किसान आंदोलन को तोड़ने के लिए बीजेपी ने हिंदू मुस्लिम कार्ड खेला लेकिन किसानों की एकता ने दिखा दिया कि वह सिर्फ किसान हैं.

सपा अध्यक्ष अखिलेश का सीएम योगी पर निशाना, कहा- जिस प्रदेश से आए हैं उसी में भेज दो

सहारनपुर में पूरे 39 मिनट के भाषण में अखिलेश ने बीजेपी सरकार पर निशाना साधा. अखिलेश ने कहा- हमने सत्ता में बैठे लोगों का काम देखा है. हमने लखीमपुर में उनकी हरकत देखी और किसानों को वाहनों से कुचल दिया गया. कानून की धज्जियां उड़ाने की भी तैयारी थी जो किसानों और कानून को कुचल सकते हैं, वे संविधान को भी रौंद सकते हैं. किसान अन्नादाता हैं आज उन्हें अपमान का सामना करना पड़ रहा है. किसानों को मावली कहा जा रहा है. मैं किसानों को बधाई देना चाहता हूं कि भाजपा द्वारा कई बार अपमानित किए जाने के बाद भी वे अपने आंदोलन से पीछे नहीं हटे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें