लखनऊ केजीएमयू में सामान्य ऑपरेशन पर रोक, लिए जाएंगे सिर्फ इमरजेंसी केस

Smart News Team, Last updated: Thu, 25th Mar 2021, 10:27 PM IST
  • केजीएमयू में सामान्य ऑपरेशन को टालने के निर्देश दिए गए हैं. कोरोना संक्रमण के दोबारा फैलने के बाद केजीएमयू प्रशासन ने यह फैसला किया है.
लखनऊ केजीएमयू में सामान्य ऑपरेशन पर रोक, लिए जाएंगे सिर्फ इमरजेंसी केस

लखनऊ: केजीएमयू में अब सिर्फ इमरजेंसी ऑपरेशन ही होंगे. सामान्य ऑपरेशन को टालने के निर्देश दिए गए हैं. कोरोना संक्रमण के दोबारा फैलने के बाद केजीएमयू प्रशासन ने यह फैसला किया है. चिकित्सा अधीक्षक डॉ. डी हिमांशु की तरफ से गुरुवार को आदेश जारी कर ये जानकारी दी गई है. केजीएमयू में 40 से ज्यादा ऑपरेशन थिएटर हैं. रोजाना 200 से ज्यादा छोटे-बड़े ऑपरेशन हो रहे थे. कोरोना मरीजों की संख्या में तेजी से इजाफा हो रहा है. पिछले साल केजीएमयू में बड़ी संख्या में डॉक्टर और कर्मचारी वायरस की चपेट में आ गए थे.

केजीएमयू में ओपीडी की व्यवस्था में तब्दीली बिना आरटीपीसीआर जांच नहीं देखे जाएंगे मरीज. कोरोना के बढ़ते मामलों के बाद केजीएमयू प्रशासन ने कदम उठाया है. 30 मार्च से नई व्यवस्था के तहत मरीज देखे जाएंगे.

लखनऊ पीजीआई में 30 मार्च से दोबारा शुरू होगी ई- ओपीडी, रोज देखे जाएंगे 50 मरीज

कोरोना संक्रमित मारिजों की संख्या पांच गुना बढ़ी

एक हफ्ते पहले संक्रमित मारिजों की संख्या न्यूनतम 200 तक की संख्या पर लुढ़कने के बाद लखनऊ में कोरोना के सक्रिय मरीजों की संख्या अचानक पांच गुना से भी ज्यादा बढ़कर 1153 हो गई है. रविवार को कुल 27 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया. स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने सर्विलांस एवं कांटैक्ट ट्रेसिंग के आधार पर विभिन्न होटलों-दुकानों, प्रतिष्ठानों, बाजारों, बस अड्डों, रेलवे स्टेशनों और अन्य भीड़भाड़ वाली जगहों तथा संक्रमण प्रभावित इलाकों से कुल 7823 मरीजों के नमूने लिए.

UPPBPB: यूपी पुलिस में 1329 पदों सीधी भर्ती, 01 मई से ऐसे करें आवेदन

राम मनोहर लोहिया अस्पताल में बढ़ेंगे कोविड बेड

लोहिया संस्थान के कोविड अस्पताल की मौजूदा बेड संख्या 50 से बढ़ाकर सौ की जा रही है. केजीएमयू, एसजीपीजीआइ के कोविड-19 अस्पतालों को फिर पूरी तरह सक्रिय किया जा रहा है. इन अस्पतालों में आइसीयू, एचडीयू, ऑक्सीजन व्यवस्था, वेंटिलेटर और कर्मचारियों की ड्यूटी लगाई जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें