अनलॉक के बाद भारतीय रेलवे 21 जून से 50 विशेष ट्रेनों को फिर से शुरू करेगी, देखें लिस्ट

Smart News Team, Last updated: Sat, 19th Jun 2021, 12:56 PM IST
  • भारतीय रेलवे 21 जून से 50 विशेष ट्रेन सेवाएं फिर से शुरू करेगा. ये ट्रेन कोरोना के कारण बंद की गई थीं. अनलॉक प्रक्रिया शुरू होने के बाद इन ट्रेनों को फिर से शुरू किया जा रहा है. इसके अलावा रेलवे एक नई विशेष ट्रेन चलाने की भी तैयारी शुरू कर रही है.
भारतीय रेलवे 21 जून से 50 स्पेशल ट्रेन को फिर से शुरू करेगी. ( सांकेतिक फोटो )

कोरोनावायरस के मामले कम होने के बाद लगभग सभी राज्यों ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर दी है. ऐसे में यूपी में भी चरणबद्ध तरीके से अनलॉक किया गया. ऑफिस, बाजार खुलने के बाद ताजमहल समेत सभी स्मारकों को खोला गया. अब भारतीय रेलवे ट्रेनों के संचालन को भी पहले की तरह शुरू करने की तैयारी में है. इसी के तहत 21 जून से 50 विशेष ट्रेनों का परिचालन फिर से शुरू किए जाने की तैयारी हो गई है. कोरोनावायरस की स्थिति में सुधार और यात्रियों की संख्या बढ़ने के कारण अब रेलवे लॉकडाउन में बंद हुई ट्रेनों को दोबारा चलाने जा रहा है.

इसके अलावा 25 जून से उत्तर प्रदेश के गोरखपुर से महाराष्ट्र के बांद्रा टर्मिनल के लिए एक नई विशेष ट्रेन भी शुरू होगी. वहीं कोरोना काल में बंद हुई स्पेशल ट्रेन में से नई दिल्ली-कालका शताब्दी एक्सप्रेस, नई दिल्ली-देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस, नई दिल्ली-अमृतसर जंक्शन शताब्दी एक्सप्रेस, दिल्ली जंक्शन-कोटद्वारा शताब्दी एक्सप्रेस, चंडीगढ़-नई दिल्ली शताब्दी एक्सप्रेस, दिल्ली सराय रोहिल्ला-जम्मू तवी दुरंतो शामिल हैं. माता वैष्णो देवी कटरा-नई दिल्ली श्री शक्ति, कालका-शिमला एक्सप्रेस, बिलासपुर जंक्शन-नई दिल्ली एक्सप्रेस, जम्मू तवी-योगनागरी ऋषिकेश एक्सप्रेस, लखनऊ-प्रयागराज संगम एक्सप्रेस, छपरा-लखनऊ जंक्शन एक्सप्रेस और फर्रुखाबाद-छपरा एक्सप्रेस दोबारा 21 जून से शुरू की जाएंगी.

लखनऊ पहुंच जितिन प्रसाद फिर देंगे कांग्रेस को झटका, BJP में समर्थकों की करवाएंगे एंट्री

बता दें कि रेलवे भी चरणबद्ध तरीके से ट्रेनों का संचालन दोबारा शुरू कर रहा है. यात्रियों की संख्या में कमी के कारण कम ट्रेन शुरू की गई थी. साथ ही अन्य राज्यों की कोरोना स्थिति को भी ध्यान में रखा गया था. अब मांग बढ़ने पर धीरे-धीरे ट्रेनों की संख्या बढ़ाई जा रही है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें