बाबरी पक्षकार इकबाल अंसारी की अपील- विवादित ढांचे के आरोपियों को बरी किया जाए

Smart News Team, Last updated: 18/09/2020 07:03 AM IST
  • बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने विवादित ढांचे के आरोपियों को माफ कर दिया है. उन्होंने सीबीआई की विशेष अदालत से अपील की है कि सभी आरोपियों के खिलाफ चल रहे मुकदमे को खत्म करके माफ कर देना चाहिए. 
इकबाल अंसारी

लखनऊ. अयोध्या में बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में बाबरी मस्जिद के पक्षकार मरहूम हाशिम के बेटे और उनकी जगह पर पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने विवादित ढांचे के आरोपियों को माफ करते हुए कहा है कि सीबीआई की विशेष अदालत को भी उन्हें माफ कर देना चाहिए.

गुरुवार के दिन पत्रकार वार्ता में उन्होंने यह बात कही. उन्होंने कहा कि अब इस मुकदमे का मतलब नहीं रह गया है. इकबाल अंसारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले में रामलला के हक में फैसला सुना दिया है. ऐसे में अब इस मुकदमे का मतलब नहीं रह गया है.

कपड़ों में छिपाकर रियाद से भारत ला रहा था करोड़ों का सोना, लखनऊ एयरपोर्ट पर अरेस्ट

इकबाल अंसारी ने आगे कहा कि जब मूल मुकदमे में फैसला आ गया है तो विवादित ढांचा का मुकदमा भी खत्म कर देना चाहिए. इधर, विवादित ढांचा विध्वंस मामले के आरोपी पूर्व सांसद डॉ. रामविलास वेदांती ने बताया कि 6 दिसंबर 1992 को जो ढांचा गिराया गया था, वह मस्जिद का नहीं था. 

सीएम योगी समेत बीजेपी नेताओं ने दी PM मोदी को जन्मदिन की शुभकामनाएं

उन्होंने सुप्रीम कोर्ट द्वारा राम लला के पक्ष में फैसला सुनाए जाने को लेकर कहा कि राम मंदिर मामले में सुप्रीम कोर्ट का फैसला आने के बाद और यह स्पष्ट हो गया है. आगे उन्होंने बताया कि 30 सितंबर को जो भी फैसला आएगा, वह सिर माथे पर होगा.

आपको बता दें कि बाबरी मस्जिद विध्वंस मामले में सीबीआई की विशेष अदालत के तरफ से 30 सितंबर को फेैसला दिया जाएगा. इसमें बीजेपी के दिग्गज नेता आरोपी है. लाल कृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती भी आरोपी है. 

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें