IRCTC को हैक कर टिकट बुकिंग में सेंधमारी करने वाला एजेंट गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 14/12/2020 03:15 PM IST
  • आईआरसीटीसी को हैक कर ऑनलाइन टिकट बुकिंग में सेंधमारी करने वाले बस्ती के ट्रैवेल एजेन्ट को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है.
(प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ: जिन ट्रेनों के तत्काल टिकटों के लिए यात्रियों को घंटों कतार में लगने के बाद कंफर्म टिकट नहीं मिल पाता है. वह काम दलाल चंद मिनटों में करके आम यात्रियों के हक पर कब्जा कर रहे हैं. इसका मुख्य केंद्र यूपी का गोंडा और बस्ती जिला है. आईआरसीटीसी को हैक कर ऑनलाइन टिकट बुकिंग में सेंधमारी करने वाले बस्ती के ट्रैवेल एजेन्ट को एसटीएफ ने गिरफ्तार किया है.

एसटीएफ ने जिस सद्दाम नाम के व्यक्ति को गिफ्तार किया है. वह तत्काल पल्स, तत्काल किंग, सुपर तत्काल, रेड मिर्ची, तेज, ओसीन, रियल मैंगो नाम के सॉफ्टवेयर्स का देशव्यापी धंधा करता था. वह दलालों को 40 से 50 हजार में सॉफ्टवेयर बेचकर हर साल करोड़ो रुपये की काली कमाई कर रहा था. सद्दाम के पकड़े जाने से इस नेटवर्क के सरगना हामिद असरफ व मनोज महतो को बड़ा झटका लगा है.

लखनऊ: यूपी को मिलेगी सबसे ज्यादा कोरोना वैक्सीन की डोज, केंद्र सरकार की एडवाइजरी जारी

रेलवे सूत्रों की मानें तो सद्दाम जिस गैंग से जुड़ा था, उसकी कमान हामिद असरफ और सीतामढ़ी निवासी मनोज महतों के हाथ में है. जिसे 8 दिसंबर को आरपीएफ इंस्पेक्टर प्रवीण कुमार और नरेंद्र यादव ने बस्ती पुलिस के साथ मिलकर गिरफ्तार किया था.

सीएम योगी की पहल पर निवेशकों से संपर्क करने की मुहिम तेज

बता दें कि हामिद ने हाईस्कूल फेल मनोज महतो को रेडमिर्ची और एएनएमएस सॉफ्टवेयर के धंधे में लगाकर अपना कैशियर बना रखा था. छानबीन के दौरान पता चला था कि सद्दाम के अलावा उक्त सॉफ्टवेयर को हामिद नामक व्यक्ति ने कई राज्यों में ऑनलाइन बेचने के बाद सीतामढ़ी में मंगाता था.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें