मासेराती का नया प्लान, अब लखनऊ कानपुर में भी मिलेंगी इटली की लग्जरी कार

Smart News Team, Last updated: Mon, 9th Aug 2021, 11:59 AM IST
  • इटली की लग्जरी कार निर्माता कंपनी मासेराती के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कंपनी भारत में बढ़ती मांग के बीच श्रेणी 2 और श्रेणी 3 के अंतर्गत शहरो में भी लग्जरी कार पहुंचाने की योजना बना रही है. इन शहरों की लिस्ट में उत्तर प्रदेश के लखनऊ और कानपुर का भी नाम शामिल है.
यूपी के लखनऊ, कानपुर शहरों में मिलेगी इटली की लग्जरी कारें

लखनऊ. इटली की लग्जरी कार निर्माता कंपनी मासेराती भारत के कई शहरों में अपनी पहुंच बढ़ाने पर काम कर रही है. कंपनी के इन शहरों कि लिस्ट में लखनऊ, कानपुर, इंदौर, भोपाल, मैंगलोर, चंडीगढ़, गोवा सहित कई शहर हैं. इस मामले को लेकर मासेराती के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि कंपनी भारत में बढ़ती मांग के बीच श्रेणी 2 और श्रेणी 3 के अंतर्गत शहरो में भी लग्जरी कार पहुंचाने की योजना बना रही है. बता दें कि इटली की लग्जरी कार निर्माता कंपनी मासेराती ने भारत में 2015 में अपने कारोबार शुरू किया था. अब इस कंपनी कार काफी पसंद भी की जा रही हैं इसलिए कंपनी ग्राहकों का अनुभव बेहतर करने के लिए अपने ऑफ्टर सेल्स को बेहतर कर रही है.

मासेराती एपीएसी के प्रमुख बोजन जानकुलोव्स्की ने एक इंटरव्यू में बताया कि मासेराती ने छोटे शहरों में लग्जरी कारों की मांग में वृद्धि देखी है. इसलिए मासेराती श्रेणी 2 और श्रेणी 3 के अंतर्गत भारतीय मार्केट में अपनी कारों की पेशकश की मांग पर जोर दे रहा है क्योंकि भारत एक बेहद विविध देश है. इसके साथ ही बोजन ने कहा महानगरों ने हमेशा ब्रांड के लिए एक व्यापक बाजार के रूप में काम किया है.

जानकुलोवस्की ने आगे कहा कि इन शहरों से हमें भविष्य में बेहतर अवसर प्रदान होंगे. इसके साथ ही उन्होंने के इन शहरों के ग्राहकों के पास खर्च करने के लिए काफी पैसा है इसलिए वह कंपनी मार्केट को बढ़ाने का मुख्य कारण भी रहेंगे. उन्होंने आगे कहा कि इन मार्केट्स में पहुंच बढ़ाने का कारण यहां के बढ़ते ग्राहक हैं जिनके पास खर्च करने के लिए काफी पैसा है. मासेराती कंपनी साल 2022 के पहले तिमाही में अपने सुपर स्पोर्ट्स कार मासेराती MC20 और 2021 के चौथे तिमाही में Levante Hybrid को लॉन्च करने वाली है.

कानपुर: जिले में संस्कृत स्कूलों में रखे जाएंगे टीचर, होगी इतनी सैलरी

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें