जनवादी जनक्रांति महारैली में CM योगी को बोले अखिलेश, बाबा मुख्यमंत्री कोई खुशहाली नहीं ला सकते

Swati Gautam, Last updated: Thu, 25th Nov 2021, 5:08 PM IST
  • जनवादी सोशलिस्ट पार्टी द्वारा गुरुवार को लखनऊ के रमाबाई मैदान में जनवादी जनक्रांति महारैली की गई. जिसमें समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ पर निशाना साधा और बोले बाबा मुख्यमंत्री कोई खुशहाली नहीं ला सकते, वह तो अभी अपने किए हुए शिलान्यास का उद्घाटन नहीं कर पाए हैं.
जनवादी जनक्रांति महारैली में CM योगी पर अखिलेश बोले बाबा मुख्यमंत्री कोई खुशहाली नहीं ला सकते

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव को लेकर लखनऊ के रमाबाई मैदान में गुरुवार को जनवादी सोशलिस्ट पार्टी द्वारा जनवादी जनक्रांति महारैली की गई. जिसमें समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव बतौर मुख्य अतिथि आमंत्रित थे. इस जनक्रांति महारैली के मंच पर अखिलेश यादव ने सभा को संबोधित करते हुए भाजपा पर जमकर निशाना साधा. अखिलेश ने उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर हमला करते हुए कहा कि बाबा मुख्यमंत्री कोई खुशहाली नहीं ला सकते, वह तो अभी अपने किए हुए शिलान्यास का उद्घाटन नहीं कर पाए हैं. उन्होंने आगे कहा कि आने वाले समय में भाजपा का सफाया निश्चित है.

जनवादी जनक्रांति महारैली के मंच पर अखिलेश यादव ने यूपी की योगी सरकार और भाजपा पर जमकर तंज कसे. इस दौरान अखिलेश ने पिछड़ों दलितों का इंकलाब, बाइस में होगा बदलाव का नारा भी दिया और बाबा साहेब आंबेडकर को याद करते हुए उन्होंने कहा कि जो सपना देखा था बाबा साहेब ने वो आज भी अधूरा है. इसलिए आप इस रैली से संकल्प लेकर जाइए कि बाबा साहेब का सपना पूरा करने का काम करेंगे. उन्होंने आगे कहा कि जातीय जनगणना करा कर हम आपको खुशहाली से जोड़ने का काम करेंगे.

UP चुनाव से पहले SP सरंक्षक मुलायम सिंह से मिले राजा भैया, कहा- राजनीतिक मुलाकात नहीं

सपा अध्यक्ष अखेश यादव ने पूर्वांचल एक्सप्रेसवे को निशाना बनाते हुए कहा कि आपमें से कई लोग पूर्वांचल एक्सप्रेसवे से चल कर गाजीपुर, मऊ, बनारस के आसपास से आए होंगे. हम उस पूर्वांचल एक्सप्रेसवे के किनारे मंडिया बना रहे थे. जिससे किसानों को फसल का दाम वहीं पर मिल जाए. इतना ही नहीं यूपी में योगी सरकार द्वारा लगातार बदले जा रहे रेलवे स्टेशन और एयरपोर्ट के नाम की राजनीति को घेरे में लेते हुए अखिलेश यादव ने कहा कि ये हारने वाले लोग है. जिनका एक ही काम है नाम बदल देना, रंग बदल देना. इस बार जनता ने ठान लिया है कि नाम बदलने वालों का नाम बदल देंगे. नए मुख्यमंत्री का नया नाम होगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें