जेईई मेंस परीक्षा अब साल में 4 बार, पहला चरण 23 से 26 फरवरी तक

Smart News Team, Last updated: Thu, 17th Dec 2020, 3:04 PM IST
  • केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बुधवार को बताया कि जेईई मेंस परीक्षा साल में चार बार आयोजित होगी.
जेईई मेन परीक्षा

लखनऊ: इंजिनियरिंग एंट्रेंस एग्जाम जेईई- मेंस अब साल में चार बार होगा. केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक ने बुधवार को बताया कि जेईई मेंस परीक्षा साल में चार बार आयोजित होगी. पहले चरण में इसका आयोजन 23 से 26 फरवरी 2021 के बीच होगा. यह परीक्षा चार सत्रों में फरवरी, मार्च, अप्रैल और मई में आयोजित होगी. यह परीक्षा राष्ट्रीय परीक्षा एजेंसी (NTA) द्वारा ली जायेगी.

पहली बार प्रश्न पत्र अंग्रेजी समेत 13 भाषाओं में होगा. अन्य भाषाओं में हिंदी, उड़िया, मराठी, गुजराती, उर्दू, तमिल, तेलुगू, असमिया, बंगाली, कन्नड़, मलयालम और पंजाबी है. स्टूडेंट्स जिस भाषा में पढ़ाई कर रहे हैं, उसी में राष्ट्रीय स्तर का यह एग्जाम देने में आसानी होगी. प्रश्न पत्र में कुल 90 सवाल होंगे. इनमें से सिर्फ 75 के जवाब देने होंगे. ऑब्जेक्टिव सवाल 15 होंगे, जिनमें निगेविट मार्किंग नहीं होगी.

सीएम योगी का निर्देश, भू मफियाओं की फिर से तैयार हो लिस्ट, होगी कड़ी कार्रवाई

शिक्षा मंत्री ने कहा की छात्र अपनी सुविधानुसार किसी भी चरण में जेईई- मेंस दे सकते हैं. वे चाहें तो स्कोर में सुधार के लिए एक से ज्यादा बार यह परीक्षा दे सकते हैं. इससे उनका साल बर्बाद नहीं होगा. अगर किसी कारण परीक्षा छूट जाती है तो उनके पास इसमें बैठने का आगे मौका होगा.

अयोध्या में मस्जिद के डिज़ाइन और नींव को लेकर अलगी बैठक 19 दिसंबर को

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें