लखीमपुर खीरी हिंसा: अजय मिश्रा टेनी के इस्तीफे की मांग पर अड़ी प्रियंका गांधी का आज मौन व्रत

Somya Sri, Last updated: Mon, 11th Oct 2021, 10:46 AM IST
  • कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा आज केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी की मांग पर लखनऊ राजभवन के पास धरना देंगी. इस दौरान प्रियंका गांधी 3 घंटे मौन व्रत रखेंगी. उनके साथ कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद रहेंगे. बताया जा रहा है कि प्रियंका सुबह 10 बजे से 1 बजे तक करीब मौन व्रत रखेंगी
कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी. (फोटो क्रेडिट- कांग्रेस)

लखनऊ: कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा लखीमपुर खीरी में हुई हिंसा के विरोध में लगातार यूपी सरकार पर हमलावर है. इसी कड़ी में प्रियंका गांधी आज केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी की मांग पर लखनऊ राजभवन के पास धरना देंगी. इस दौरान प्रियंका गांधी 3 घंटे मौन व्रत रखेंगी. उनके साथ कांग्रेस के कई नेता और कार्यकर्ता भी मौजूद रहेंगे. बताया जा रहा है कि प्रियंका सुबह 10 बजे से 1 बजे तक करीब मौन व्रत रखेंगी. मौन व्रत के जरिये वो केंद्रीय मंत्री अजय मिश्रा टेनी की बर्खास्तगी की मांग पर जोर देंगी.

बता दें कि रविवार को यूपी के वाराणसी में प्रियंका गांधी वाड्रा ने किसान न्याय रैली को संबोधित किया था. इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ पर जमकर निशाना साधा था. इस दौरान प्रियंका ने लखीमपुर खीरी हिंसा पर बोलते हुए कहा कि जब तक गृहराज्यमंत्री (अजय मिश्रा) का इस्तीफा नहीं होता, हम लड़ते रहेंगे. इसके साथ ही प्रियंका गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर किसान आंदोलन को लेकर निशाना साधते हुए कहा- हमारे प्रधानमंत्री दुनिया के कोने-कोने तक घूम सकते हैं लेकिन अपने किसानों से बात करने के लिए अपने घर से मात्र 10 किलोमीटर दूर दिल्ली के बॉर्डर तक नहीं जा सकते.

लखीमपुर कांड पर बोले यूपी BJP अध्यक्ष- नेतागिरी का मतलब किसी को फॉर्च्यूनर से कुचलना नहीं

वहीं प्रियंका ने कहा खुद को गंगा पुत्र कहने वाले प्रधानमंत्री ने किसानों का अपमान किया है. क्या उन्हें पता कि आज किसान कितनी समस्याओं से जूझ रहा है? पिछले कई महीनों से किसान आंदोलन कर रहे हैं. 600 से ज्यादा किसान शहीद हो चुके हैं. किसान अपनी फसल और जमीन बचाने के लिए आंदोलन कर रहा है. इसके साथ ही बेरोजगारी पर बोलेत हुए प्रियंका ने कहा जब मैं लखनऊ के एक बस्ती में गयी थी वहां एमए, बीए और आईटीआई करके युवा बेरोजगार घुम रहे हैं प्रदेश की जनता दुखी है, त्रस्त है, नाराज है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें