लखीमपुर मामले में पीड़ितों से मिलने जा रहे अखिलेश यादव हाउस अरेस्ट, घर के बाहर 16 पहिये का ट्रक लगाकर रास्ता किया जाम

Shubham Bajpai, Last updated: Mon, 4th Oct 2021, 2:29 PM IST
  • सपा के मुखिया और यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव को पुलिस ने आज लखीमपुर मामले में पीड़ितों से मिलने जाने से पहले ही सुबह हाउस अरेस्ट कर दिया. इस दौरान अखिलेश के घर की ओर आने वाले रास्ते के बीच में 16 पहिये का ट्रक खड़ा कर दिया गया ताकि घर के बाहर सपा नेताओं की भीड़ न इकट्ठा हो. 
लखीमपुर मामले में पीड़ितों से मिलने जा रहे अखिलेश यादव हाउस अरेस्ट

लखनऊ. लखीमपुर खीरी में रविवार को किसानों के साथ हुई हिंसा का मामला अब तूल पकड़ता जा रहा है. इस मामले में पीड़ितों से मिलने जा रही कांग्रेस की महासचिव प्रियंका गांधी को आज तड़के सुबह यूपी पुलिस ने हरगांव से हिरासत में ले लिया था. वहीं, समाजवादी पार्टी के मुखिया और सूबे के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव को भी हाउस अरेस्ट कर दिया गया है. इस दौरान उनके घर की ओर आने वाले रास्ते को जाम करने 16 पहिये का ट्रक लगा दिया गया. साथ ही भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात कर दिया गया. 

बता दें कि कल हुई घटना को लेकर अखिलेश आज लखीमपुर खीरी पीड़ितों से मिलने जाने वाले थे.

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी पहुंची लखीमपुर , मृतक किसानों के परिजनों से मुलाकात करेंगी

रात 1 बजे हुई थी प्रियंका रवाना

रविवार को हुई हिंसा मामले में प्रियंका गांधी पीड़ितों से मिलने रात 1 बजे रवाना हुई थीं और करीब सुबह 6 बजे प्रियंका लखीमपुर खीरी की सीमा पर पहुंची थीं. इस दौरान यूपी पुलिस ने प्रियंका को हरगांव के पास हिरासत में ले लिया. प्रिंयका की पुलिस से काफी कहासुनी भी हो गई. उन्होंने पुलिस पर सवाल उठाते हुए कहा कि पुलिस वाहन में उन्हें कैसे ले जाया जा रहा है, वहीं, धक्का-मुक्की मामले में प्रिंयका ने पुलिस से कहा कि यह अपहरण, छेड़छाड़ और मारपीट का मामला बन सकता है. कानून वो भी समझती हैं. यूपी में भले ही कानून का पालन न हो, लेकिन देश में ऐसा कानून है.

लखीमपुर खीरी में प्रदर्शन कर रहे किसानों पर चढ़ी BJP नेता के काफिले की गाड़ी, बवाल, आगजनी

दरअसल, रविवार को लखीमपुर खीरी में किसान और बीजेपी के बीच विवाद हो गया था. जिसके बाद हुई हिंसा में करीब 8 लोगों की मौत हो गई. जानकारी अनुसार, उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य तिकुनिया में आयोजित होने वाले एक कार्यक्रम में शामिल होने जा रहे थे. इस दौरान किसानों ने उनके काफिले को काले झंडे दिखाए. किसानों ने आरोप लगाया कि इसके बाद केंद्रीय गृह राज्यमंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा ने गाड़ी से टक्कर मार दी. जिससे 4 किसानों की मौत हो गई. जिसको लेकर इलाके में तनाव बढ़ा हुआ है और भारी संख्यामें पुलिस बल तैनात है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें