सैनिटाइजर की आड़ में बन रही नकली शराब की फैक्ट्री का भंडाफोड़, 12 गिरफ्तार

Smart News Team, Last updated: 10/10/2020 08:06 PM IST
  • सरोजीनगर छापेमारी में पुलिस ने क्रेजी रोमियो ब्रांड की 365 पेटी, शराब तैयार करने के लिए 61 ड्रम स्प्रिट, 78 हजार प्लास्टिक की खाली शीशी के साथ कुछ और समान भी बरामद किया है.मनोज यादव, विकास और मंजीत जायसवाल अभी भी फरार हैं लेकिन उसकी तलाश अभी भी चल रही है.
सैनिटाइजर फैक्टरी में पुलिस ने बरामद की अवैध शराब (प्रतीकात्मक फोटो)

लखनऊ. सरोजीनगर में सैनेटाइजर और आरओ प्लांट में नकली शराब बनाने वाली फैक्टरी का भंडाफोड़ किया गया है. इसमें 61 ड्रम स्प्रिट और नकली शराब बरामद की गई है. शनिवार को पुलिस ने 12 लोगों को आरोप में गिरफ्तार कर लिया है. बताया जा रहा है कि शराब को सीआरपीएफ का बर्खास्त कर्मी चलवा रहा था. सीआरपीएफ कर्मी समेत तीन लोग अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर हैं और पुलिस उनकी दबीश कर रही है. 

मामले पर डीसीपी सोमेन वर्मा ने बताया कि सरोजनीनगर तहसील के पीछे प्लाट में अवैध शराब बनाने की फैक्टरी की जानकारी मिली थी. बनाये जाने की जानकारी मिली थी. सरोजनीनगर थाना इंस्पेक्टर आनन्द शाही जामकारी मिलने के बाद शनिवार देर रात फैक्ट्री पर छापा मारा. छापेमारी में पुलिस ने क्रेजी रोमियो ब्रांड की 365 पेटी, शराब तैयार करने के लिए 61 ड्रम स्प्रिट, 78 हजार प्लास्टिक की खाली शीशी के साथ कुछ और समान भी बरामद किया है. साथ ही फैक्टरी में काम कर रहे 12 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है. 

संजय सिंह का योगी सरकार पर हमला, बोले- गैर BJP शाषित राज्य में हो हाथरस केस की जांच

एडीसीपी चिरंजीव नाथ सिन्हा ने बताया है कि बताया है कि मनोज यादव, विकास और मंजीत जायसवाल अभी भी फरार हैं लेकिन उसकी तलाश अभी भी चल रही है. मनोज यादव पर पहले भी हत्या का आरोप है जिसके चलते सीआरपीएफ से बर्खास्त किया गया था. मनोज ने अपने रिश्तेदार विकास यादव और मंजीत जायसवाल के साथ मिल सैनेटाइजर और आरटो वॉटर कारखाना खोला था लेकिन उसकी आड़ में नकली शराब बनाते थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें