लखनऊ: स्कूटी से राइस मिल भेज दिया 900 कुंतल धान, काकोरी का मामला

Smart News Team, Last updated: 20/01/2021 12:43 PM IST
  • उत्तरप्रदेश में धान खरीद केंद्रों पर धांधली अपने चरम पर है। ताजा मामला काकोरी का है। यहां के एक धान खरीद केंद्र पर नौ सौ कुंतल धान जिस वाहन से मिल तक भेजा गया था, जांच में उक्त वाहन नंबर एक स्कूटी का निकला है। इससे मालूम होता है कि धान खरीद पर किस तरह से किसानों से फ्रॉड किया जा रहा है।
फाइल फोटो

लखनऊ: काकोरी में एक विपणन निरीक्षक ने खरीद केंद्र से मिल तक 900 कुंतल धान स्कूटी से भिजवा दिया। इसकी शिकायत मिलने पर गुपचुप जांच भी शुरू हो गई है। प्राथमिक जांच में सामने आया है कि केंद्र से मिल के लिए भेजे गए जिस वाहन का नंबर चालान में दर्ज किया गया, दरअसल वह स्कूटी का नंबर है।

प्रदेश में धान खरीद में फर्जीवाड़े के कई मामले सामने आ चुके हैं। इसी कड़ी में काकोरी के गुरदीनखेड़ा खरीद केंद्र पर वित्तीय वर्ष 2019-2020 में हुई धान खरीद में फर्जीवाड़े का मामला सामने आया है। इस बारे में जिला प्रशासन की ई-मेल आईडी पर शिकायत की गई है। इसके मुताबिक, क्रय केंद्र से मिल तक पांच चालान के जरिए 900 कुंतल धान की ढुलाई दिखाई गई है। हर बार 450 बोरा (180 कुंतल) धान गुरुदीनखेड़ा क्रय केंद्र से मिलों में भेजा गया। हर चालान में ट्रक से धान की ढुलाई का जिक्र है। इसमें ट्रक का वाहन नंबर यूपी32 एटी 6499 लिखा गया है। एनबीटी ने इसकी छानबीन की सामने आया कि यह वाहन नंबर ट्रक का नहीं, बल्कि एक स्कूटी पेप+का है। इस मामले की शिकायत के बाद डीएम अभिषेक प्रकाश ने इसकी गोपनीय जांच शुरू करवा दी है।

यूपी MLC चुनाव: निर्दलीय महेश शर्मा का नामांकन रद्द, BJP-सपा की सभी सीटों पर जीत तय

नवंबर-2019 में हुई ढुलाई

काकोरी के गुरुदीनखेड़ा क्रय केंद्र से 25 से 30 नवंबर 2019 के बीच 900 कुंतल धान मिलों में भेजा गया। हर बार ढुलाई में ट्रक संख्या में स्कूटी का नंबर दर्ज किया गया। इस साल भी कई ठेकेदारों ने इसी तरह की गड़बड़ी की शिकायत की है, जिसकी जांच भी चल रही है।

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें