राजद्रोह केस दर्ज होने पर संजय सिंह ने राज्यसभा में सभापति से की जांच की अपील

Smart News Team, Last updated: 19/09/2020 12:17 PM IST
  • आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने अपने खिलाफ राजद्रोह केस दर्ज किए जाने की जांच राज्यसभा में सभापति से की. 
आप के संजय सिंह ने यूपी में दर्ज राजद्रोह केस की जांच करने की अपील राज्यसभा के सभापति से की.

लखनऊ. आम आदमी पार्टी के यूपी प्रभारी और राज्यसभा सांसद संजय सिंह के खिलाफ यूपी सरकार ने राजद्रोह का केस दर्ज कर लिया है. इसके बाद संजय सिंह ने कड़ी नाराजगी जताते हुए राज्यसभा के सभापति से इस मामले में जांच करने की अपील की है. संजय सिंह को सभापति ने सदन में आश्वस्त करते हुए कहा कि इस मामले की जांच की जाएगी. 20 सितंबर को लखनऊ में इस मामले में संजय सिंह को पुलिस के सामने पेश होना है. संजय सिंह ने इस पर कहा कि वह 20 सितंबर को थाने में पहुंचकर गिरफ्तारी देंगे. 

संजय सिंह ने यूपी सरकार पर हमला करते हुए कहा कि सरकार चाहे लाख केस दर्ज करवा दें, लेकिन अपराध के खिलाफ मेरी आवाज को नहीं दबाया जा सकता है. उन्होंने कहा कि योगी सरकार ने 3 महीने में मेरे खिलाफ लगभग 13 केस दर्ज किए हैं. 3 महीने में 13 केस यूपी में आज तक किसी माफिया के खिलाफ नहीं हुए हैं. सरकार कह रही है कि मैं देशद्रोही हूं. इस वजह से मैंने राज्यसभा के सभापत्ति से अपील किया है कि अगर में इस मामले में देशद्रोही हूं तो मुझे जेल में डाल दिया जाए. 

लव जिहाद पर CM योगी सख्त, धर्म बदलकर शादी करने वालों पर होगी कार्रवाई

बता दें कि इस संबंध में 12 राजनीतिक दलों के 37 सांसदों ने संजय सिंह का समर्थन करते हुए सभापति को पत्र सौंपा है. संजय सिंह ने यूपी सरकार पर जातिवाद का आरोप लगाते हुए कहा कि 63 फीसदी की जनता ने सरकार को जातिवादी बताया है. 

न्यूजीलैंड में नौकरी लगवाने के नाम पर तीन युवकों से लूट, लखनऊ बुलाकर 15 लाख ठगे

उन्होंने कहा कि यूपी में लूट, हत्या और बलात्कार जैसी घटनाएं होना देशद्रोह नहीं होती है, लेकिन इस पर सवाल पूछना देशद्रोह हो जाता है. संजय सिंह ने योगी सरकार पर कोरोना कीट की खरीद में घोटाले का आरोप लगाते हुए कहा कि किट में हुए घोटाले को उजागर कर दिया तो देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया गया. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें