लखनऊ: कोरोना पॉजिटिव मरीज की मौत के बाद 3 दिन के 3 लाख का बिल देख भड़के परिजन

Smart News Team, Last updated: 10/09/2020 12:58 PM IST
  • कोरोना पॉजिटिव 45 वर्षीय रमेश कुमार सिंह की मौत के बाद गोमतीनगर के मेयो अस्पताल में परिजनों ने जमकर हंगामा किया. परिवार वालों का आरोप है कि हॉस्पिटल ने तीन दिन में तीन लाख का बिल बना दिया और अब शव देने के बदले पैसे मांग रहे हैं.
गोमती नगर के मेयो हॉस्पिटल में कोरोना पॉजिटिव 45 वर्षीय रमेश कुमार सिंह की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया.

लखनऊ. गोमती नगर के मेयो हॉस्पिटल में कोरोना पॉजिटिव 45 वर्षीय रमेश कुमार सिंह की मौत के बाद परिजनों ने अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया. परिजनों ने हॉस्पिटल पर आरोप लगाया है कि सिर्फ तीन दिने के इलाज का बिल तीन लाख बना दिया. और अब मरीज की डेड बॉडी देने के बदले तीन लाख रुपये मांग रहे हैं. इस बात से गुस्साए परिजन अब रमेश की मौत के बाद हॉस्पिटल में हंगामा कर रहे हैं.

सरकारी नौकरी का झांसा देकर ठगे 41 लाख, बचने के लिए जानें ठगों की प्लानिंग

जानकारी के मुताबिक कोरोना पॉजिटिव आने पर रमेश कुमार सिंह को लोकबंधु हॉस्पिटल के एल 2 में भर्ती कराया गया. वहां से उन्हें तीन दिन पहले एल 3 में रेफर किया गया था. लेकिन परिजनों का आरोप है कि एल 3 में रेफर करने के बावजूद एल 2 में ही मेयो हॉस्पिटल के डॉक्टर मरीज का इलाज कर रहे थे. जिसके बाद रमेश की मौत हो गई. अब मौत के बाद से ही परिजन गुस्से में है. 

राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट हुआ ठगी का शिकार, चेक क्लोनिंग से निकाले 6 लाख

मामले की सूचना पाकर पुलिस भी मौके पर पहुंच गई है. हंगामा बढ़ता देख मौके पर सिटी मजिस्ट्रेट भी पहुंच गए. उसके बाद किसी तरह एसीएम पंचम सत्यम मिश्रा ने पहुंच कर मामला शांत कराया और शव को परिजनों को सौंपने की प्रक्रिया शुरू हुई. बताया जा रहा है कि लेवल 3 अस्पताल में अधिकतम शुल्क 18 हजार रुपए शासन ने तय किया है. ऐसे में हॉस्पिटल के बिल की भी जांच होगी कि इतने पैसे किस आधार पर मांगे जा रहे थे.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें