लखनऊ में व्यापारियों का पटरी दुकानदारों के खिलाफ मार्च, कल बंद का ऐलान

Smart News Team, Last updated: 11/09/2020 10:22 PM IST
  • आमीनाबाद के व्यापारियों ने स्थाई दुकानों के सामने पटरी दुकानदारों को दुकान लगाने की अनुमति के फैसले का विरोध किया. जिसमें व्यपारी मंडल ने शुक्रवार को अमीनाबाद में मार्च किया साथ ही एक दिन के बंद का भी ऐलान किया.
अमीनाबाद में पटरी दुकानदारों के खिलाफ सड़क पर उतरे व्यापारी मंडल के सदस्य

लखनऊ: राजधानी के अमीनाबाद के व्यापारी व पटरी दुकानदार अब खुलकर एक दूसरे के खिलाफ आमने-सामने आ गए हैं. व्यापारियों ने  शुक्रवार को अमीनाबाद बंद कराने के लिए पैदल मार्च निकाल रहे थे. इसी दौरान पटरी दुकानदारों ने भी व्यापारियों के विरोध में नारेबाजी शुरू कर दी. जवाब में व्यापारी भी नारेबाजी करने लगे. घटना की जानकारी मिलते ही पुलिस मौके पर पहुंची और मामले को शांत कराया.

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को स्थाई दुकानों के सामने पटरी दुकानों को अनुमति देने के खिलाफ अमीनाबाद संघर्ष समिति और लखनऊ व्यापार मंडल के व्यापारियों ने  पैदल मार्च निकाला. इसके साथ ही शनिवार को एक दिन की बंदी की भी घोषणा की. इसके लिए वह दुकानदारों से सम्पर्क कर रहे थे. वहीं पिछले छह माह से दुकानें खोलने की अनुमति न मिलने से पटरी दुकानदारों में भी भारी आक्रोश है. उन्होंने शुक्रवार को दोपहर लगभग 12 बजे झण्डे वाले पार्क के सामने बड़ी संख्या में जुटकर प्रदर्शन करके अपनी नाराजगी जाहिर की थी. 

मलिहाबाद में मौत पर बवाल बढ़ा, सड़क जाम, पथराव, पुलिस फायरिंग में एक घायल

इस मौके पर लखनऊ व्यापार मंडल के वरिष्ठ महामंत्री अमरनाथ मिश्रा ने कहा कि यदि दुकानों के सामने पटरी दुकाने लगाने के आदेश पर रोक नही लगी तो अमीनाबाद के व्यापारी बेमियारी बंदी करने के लिए मजबूर हो जाएंगे. यही नही बाद में पूरे शहर को बंद करने का फैसला किया जा सकता है. वहीं दूसरी ओर पटरी दुकानदारों के नेता गोकुल प्रसाद ने कहा कि पटरी दुकानदारों ने कोई विरोध नहीं किया है. लेकिन व्यापारियों ने प्रदर्शन के दौरान नारेबाजी कर पटरी दुकानदारों को उकसाने की कोशिश की थी.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें