लखनऊ में बोले सीएम योगी-ब्राह्मण खुद कष्ट भोग लेते हैं पर धर्म को नुकसान नहीं होने देते

Somya Sri, Last updated: Mon, 15th Nov 2021, 8:36 AM IST
  • मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को लखनऊ के कानपुर रोड पर आयोजित ब्राह्मण सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि ब्राह्मण खुद कष्ट भोग लेते हैं पर धर्म को नुकसान नहीं होने देते हैं. उन्होंने कहा “जब हम ब्राह्मणों की बात करते हैं, तो एक अवधारणा अपने आप सबके सामने आ जाती है. ब्राह्मण का अर्थ है संस्कार, संस्कृति और धर्म. वे खुद पीड़ित हैं लेकिन अपने धर्म पर हमले नहीं होने देते हैं.
फोटो- सीएम योगी आदित्यनाथ (फाइल फोटो)

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ रविवार को लखनऊ के कानपुर रोड पर आयोजित ब्राह्मण सम्मेलन को संबोधित कर रहे थे. ये कार्यक्रम एनजीओ ब्राह्मण परिवार के 16वें स्थापना दिवस के मौके पर आयोजित की गई थी. उनके साथ केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, उप मुख्यमंत्री दिनेश शर्मा सहित कई गणमान्य लोग मौजूद थे. इस दौरान सीएम योगी ने कहा कि ब्राह्मण खुद कष्ट भोग लेते हैं पर धर्म को नुकसान नहीं होने देते हैं. उन्होंने कहा “जब हम ब्राह्मणों की बात करते हैं, तो एक अवधारणा अपने आप सबके सामने आ जाती है. ब्राह्मण का अर्थ है संस्कार, संस्कृति और धर्म. वे खुद पीड़ित हैं लेकिन अपने धर्म पर हमले नहीं होने देते हैं. उन्होंने आगे कहा कि ब्राह्मण "सनातन धर्म के आधार" हैं और उन्होंने वर्षों से संस्कृति और धर्म को संरक्षित किया है.

कश्मीरी पंडितों की आवाज सुनी

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा, "राम जन्मभूमि के आंदोलन में 500 साल लग गए और कोई भी कश्मीरी पंडितों के दर्द को नहीं समझ सकता, जिन्हें अपना घर छोड़ने के लिए मजबूर किया गया था. उनकी आवाज और दर्द को बीजेपी ने सुना और जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 को खत्म कर दिया गया."

अमित शाह ने दो दिवसीय दौरे में कार्यकर्ताओं को दिया यूपी चुनाव में जीत का मंत्र, कही ये बातें

सीएम योगी ने कहा,"कोई भी राजनेता यह नहीं कह सकता कि उन्हें अनुच्छेद 370 को खत्म करने या अयोध्या में राम मंदिर बनाने का मौका नहीं मिला. मौका मिला तो आपने रामभक्तों को गोली मार दी. जब आप सत्ता में थे, आपने राम और कृष्ण के अस्तित्व पर सवाल उठाया था. लेकिन मौका मिला तो हमने अयोध्या में बड़े पैमाने पर दीपोत्सव का आयोजन किया." उन्होंने कहा,"मौका मिला तो हमने न सिर्फ धारा 370 को खत्म किया बल्कि कश्मीरी पंडितों की घाटी में वापसी की प्रक्रिया भी शुरू कर दी."

अखिलेश यादव पर साधा निशाना

मुख्यमंत्री ने समाजवादी पार्टी प्रमुख अखिलेश यादव पर हमला करते हुए कहा कि पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना की तुलना सरदार वल्लभ भाई पटेल से करना अनुचित है. उन्होंने कहा, "वोट बैंक की राजनीति के लिए एक राष्ट्रीय नायक सरदार पटेल की तुलना जिन्ना से नहीं की जा सकती."

UP में दिवंगत और दिव्यांग होमगार्ड आश्रितों को 5 लाख की आर्थिक मदद के साथ एक साल में मिलेगी नौकरी

राजनाथ सिंह ने क्या कहा

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि वसुधैव कुटुंबकम का संदेश भारत के ऋषि मुनियों ने दिया था. रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारे देश की ऋषि परंपरा कहती है कि हम श्रेष्ठ बनें और पूरे विश्व को श्रेष्ठ बनाएं. इसी भावना से हम देश ही नहीं पूरे विश्व को अपने परिवार के समान मानते हैं. वहीं डिप्टी सीएम दिनेश शर्मा ने कहा कि ब्राह्मण सिर्फ एक जाति नहीं बल्कि एक विचारधारा है. उन्होंने कहा कि अभी यूपी भाजपा में 58 ब्राह्मण विधायक हैं.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें