लखनऊः राजनाथ सिंह आज देंगे 7506 करोड़ की सौगात, कई परियोजनाओं का करेंगे शिलान्यास

Sumit Rajak, Last updated: Wed, 5th Jan 2022, 8:54 AM IST
  • रक्षामंत्री एवं सांसद राजनाथ सिंह बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ आ रहे हैं. भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने बताया कि रक्षामंत्री दोपहर 12:30 से अमौसी एयरपोर्ट पहुंचेंगे. इस दौरान वह सड़क परिवहन एवं राजमार्ग केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ 7,506 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे.
Union Defense Minister Rajnath Singh फाइल फोटो

लखनऊ. रक्षामंत्री एवं सांसद राजनाथ सिंह बुधवार को अपने संसदीय क्षेत्र लखनऊ आ रहे हैं. भाजपा के महानगर अध्यक्ष मुकेश शर्मा ने बताया कि रक्षामंत्री दोपहर 12:30 से अमौसी एयरपोर्ट पहुंचेंगे. वहां से सीधे अमौसी मेट्रो स्टेशन के निकट कार्यक्रम स्थल के लिए रवाना होंगे. इस दौरान वह सड़क परिवहन एवं राजमार्ग केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी एवं मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के साथ 7,506 करोड़ की विभिन्न परियोजनाओं का लोकार्पण एवं शिलान्यास करेंगे.

मुख्य परियोजनाओं में मुंशीपुलिया चौराहे से पॉलिटेक्निक तक फ्लाईओवर निर्माण का शिलान्यास, खुर्रमनगर फ्लाईओवर निर्माण एवं मड़ियांव से आईआईएम क्रासिंग तक फ्लाईओवर निर्माण का शुभारंभ करेंगे. इसके साथ ही लखनऊ-हरदोई रोड चार लेन चौड़ीकरण का शिलान्यास किया जाएगा. इसके अलावा सर्वोदयनगर और बिराहिमपुर पुल का लोकार्पण किया जाएगा। कार्यक्रम के बाद वहां से दोपहर 02:20 बजे लखनऊ एयरपोर्ट के लिए प्रस्थान करेंगे. दोपहर 02:30 बजे एयरपोर्ट से दिल्ली रवाना होंगे.

मकर सक्रांति पर UP के 4723 शक्ति केंद्रों में खिचड़ी भोज, शामिल होंगे जनप्रतिनिधिः सुनील बंसल

मुंशीपुलिया फ्लाईओवरः 50 हजार वाहन चालकों को मिलेगा फायदा

रिंग रोड स्थित मुंशीपुलिया चौराहे से पॉलीटेक्निक के बीच फ्लाईओवर बनाया जाएगा. केंद्रीय सड़क एवं परिवहन मंत्रालय ने 170.6 करोड़ की लागत से बनने वाले चार लेन फ्लाईओवर और सर्विस लेन बनाई जाएगी. इससे करीब 50 हजार वाहन चालकों को राहत मिलेगी. 

लखनऊ-कानपुर एक्सप्रेस-वे की नींव रखी जाएगी 

केंद्रीय रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह के साथ सांसद प्रतिनिधि दिवाकर त्रिपाठी ने बताया कि लखनऊ कानपुर एक्सप्रेस-वे की नीव भी रखी जाएगी. एक्सप्रेस-वे में थ्री ऑटोमेटेड मशीन का एडवांस टेक्नोलॉजी का इस्तेमाल किया जाएगा. हालांकि, मुख्य कार्यक्रम कानपुर में किया जाएगा. केंद्र ने 1935-34 करोड़ रुपए के प्रोजेक्ट को मंजूरी दे दी है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें