अब ईडी विकास दुबे के परिवार और जयकांत के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग का केस दर्ज करेगी

Smart News Team, Last updated: 14/09/2020 07:49 AM IST
  • लखनऊ प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) जल्द ही कानपुर के बिकरू कांड से संबंधित विकास दुबे के परिवार और जयकांत बाजपेयी के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के तहत केस दर्ज करके जांच करेगी. 
फाइल फोटो-विकास दुबे और जयकांत बाजपेयी.

लखनऊ. प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के लखनऊ जोन कार्यालय जल्द ही  कानपुर के बिकरू कांड से संबंधित कुछ आरोपियों के खिलाफ मनी लॉन्ड्रिंग के तहत मामला दर्ज करके कार्रवाई कर सकता है. इसके लिए मुख्यालय की मंजूरी मिल गई है. जानकारी के अनुसार ईडी पुलिस मुठभेड़ में मारे गए घटना के मुख्य आरोपी विकास दुबे के परिवार के अलावा उसके करीबी सहयोगी जयकांत बाजपेयी के खिलाफ मामला दर्ज जांच की जा सकती हैं.

बताया जा रहा  है कि कानपुर के बिकरू कांड के बाद ईडी की टीम सक्रिय हो गई थी. टीम ने घटना के बाद से हीआरोपियों की संपत्तियों का ब्योरा जुटाना शुरू कर दिया था. ईडी को पुलिस और आयकर विभाग की जांच के आधार पर कई दस्तावेज मिले हैं. 

लखनऊ: कोविड अस्पताल से भागे कोरोना के दो मरीज, मची खलबली

बता दें कि इससे पहले प्रदेश सरकार ने आयकर विभाग और ईडी से विकास दुबे के सहयोगी और जयकांत बाजपेई द्वारा अवैध रूप से हासिल की गई सम्पत्तियों की जांच कराने का अनुरोध किया था.

लखनऊ: करोड़ों के घोटाले में स्पोर्ट्स कॉलेज के पूर्व प्रधानाचार्य बर्खास्त

जानकारी के अनुसार कानपुर के एसएसपी ने शासन को भेजी अपनी रिपोर्ट में बताया था कि चौबेपुर थाने में आईपीसी की धारा 147, 148, 149, 307, 302, 395, 412, 120 बी  और 7 सीएलए के आधार पर अभियुक्त जयकांत बाजपेई के खिलाफ दर्ज मुकदमे में उसके द्वारा अवैध रूप से अर्जित की गई सम्पत्तियों का मामला प्रथमदृष्ट्या सही प्रतीत  रहा है. एसएसपी ने ही इस मामले की जांच कराने का अनुरोध शासन से किया था. उन्होंने आयकर विभाग और ईडी एजेंसी से जांच काराने का अनुरोध किया था. 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें