IAS अनुराग तिवारी मौत केस में CBI क्लोजर रिपोर्ट खारिज, कोर्ट बोला- और जांच करें

Smart News Team, Last updated: 27/08/2020 10:32 PM IST
  • सीबीआई के विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट ने कर्नाटक कैडर के आईएएस अधिकारी अनुराग तिवारी की संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में दाखिल क्लोजर रिपोर्ट को खारिज कर दिया है.
IAS अनुराग तिवारी मौत केस में CBI क्लोजर रिपोर्ट खारिज

लखनऊ. आईएएस अधिकारी अनुराग तिवारी की संदेहास्पद परिस्थितियों में हुई मौत के मामले में सीबीआई के विशेष न्यायिक मजिस्ट्रेट सुब्रत पाठक ने दाखिल क्लोजर रिपोर्ट को खारिज कर दिया है. इसके साथ ही कोर्ट ने सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट को चुनौती देने वाली विरोध अर्जी में उठाए गए सवालों के आधार पर फिर से जांच का आदेश भी दिया है.

गौरतलब है कि कोर्ट ने अनुराग तिवारी के भाई मंयक तिवारी की प्रोटेस्ट अर्जी पर सुनवाई करते हुए सीबीआई को 30 सितंबर को प्रगति रिपोर्ट भी दाखिल करने का निर्देश दिया है. साल 2019 की 19 फरवरी को सीबीआई ने क्लोजर रिपोर्ट दाखिल कर अनुराग की मौत को सड़क पर गिरने से बताया था. सीबीआई का कहना था कि मौत की जांच में किसी भी तरह का हत्या या आत्महत्या का सबूत नहीं मिला है.

NEET, JEE परीक्षा पर BJP के खिलाफ अखिलेश यादव- जान के बदले एग्जाम नहीं चलेगा

अनुराग के भाई ने साल 2019 की 16 सितंबर को सीबीआई की क्लोजर रिपोर्ट को चुनौती देते हुए अदालत में प्रोटेस्ट अर्जी दाखिल की थी. बता दें कि यूपी में बहराइच के निवासी आईएएस अनुराग तिवारी बंगलोर में फुड सिविल सप्लाई एंड कंज्यूमर अफेयर में कमिश्नर के पद पर तैनात थे.

यूपी कोरोना अनलॉक: CM योगी का आदेश- शनिवार, रविवार को लॉकडाउन का सख्ती से पालन

साल 2017 में 17 मई की सुबह राजधानी के पॉश इलाके मीराबाई मार्ग पर सड़क किनारे अनुराग की लाश मिली थी. पहले मामला हजरतगंज थाने में दर्ज हुआ जिसके बाद इसे सीबीआई को सौंप दिया गया.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें