अखिलेश यादव ने बोटिंग के लिए फ्रांस से मंगाई थी 80 बोट, योगी सरकार में कबाड़ बनी

Smart News Team, Last updated: Thu, 8th Jul 2021, 7:11 AM IST
  • यूपी के पूर्व सीएम अखिलेश यादव के कार्यकाल के दौरान लखनऊ के जनेश्वर पार्क में बोटिंग के लिए फ्रांस से मंगाई गईं 80 बोट अब कबाड़ हो गई हैं. एक भी बोट चलने लायक नहीं है और इसी वजह से पार्क में बोटिंग का काम ठप हो गया है.
अखिलेश यादव ने बोटिंग के लिए फ्रांस से मंगाई थी 80 बोट, योगी सरकार में कबाड़ बनी

लखनऊ. उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की समाजवादी पार्टी की सरकार के दौरान फ्रांस से लखनऊ के जनेश्वर पार्क की झील के लिए मंगवाई गई 80 नाव अब पांच साल बाद कबाड़े जैसी हालत में हो गई हैं. साल 2015-16 में फ्रांस से ये सभी खूबसूरत बोट मंगवाई गईं थी जो अब योगी सरकार के कार्यकाल के जाते-जाते कबाड़ बन चुकी हैं. किसी बोट के पैंडल गायब हैं तो किसी में बाहर से टूट फूट नजर आती है और अधिकारियों की लापरवाही के चलते ये ठीक भी नहीं हो पा रही हैं.

गौरतलब है कि लखनऊ विकास प्रधिकरण ने जनेश्वर पार्क की झील में बोटिंग का काम एक प्राइवेट कंपनी के हाथों में सौंपा था. शर्त के अनुसार, कंपनी को बोट सर्विस देनी थी और कॉन्ट्रेक्ट खत्म होने पर एलडीए को हैंडओवर करनी थी. पिछले साल कोरोना काल में कंपनी अचानक भाग गई और करीब 70 बोट की हालत बेकार कर गई. बाकी जो बची थी वो भी बेकार हो गईं. एलडीए ने कंपनी को नोटिस भी भेजा लेकिन फिर भी मरम्मत नहीं करवाई. इसी वजह से अब संचालन रुका है.

आपकी कार के साइलेंसर में छिपा है ये महंगा सामान, छोटी सी चोरी से बड़ा नुकसान

एलडीए अधिशासी अभियंता अवनींद्र कुमार सिंह ने इस संबंध में कहा कि असलियत में बोट टूट गई हैं. जिस कंपनी को पहले कांट्रैक्ट दिया था उसे ठीक कराना था लेकिन संचालन बंद करने के बाद उसने एक भी बोट सही नहीं कराई. कंपनी पर दबाव बनाया गया है और नोटिस भी भेजा गया है.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें