लखनऊ: मुख्तार के बाद अब अफजाल अंसारी पर गिरी LDA की गाज, भेजा नोटिस

Smart News Team, Last updated: 02/09/2020 09:35 AM IST
  • लखनऊ विकास प्राधिकरण ने सभी अवैध निर्माणों की जांच तेज कर दी है. जिसके तहत एलडीए अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी को उनके गाटा वाले मकान के लिए नोटिस भेज चुका है. एलडीए के अधिकारियों ने कहा कि अगर फरहत उस मकान पर मालिकाना हक साबित नही कर पाईं तो मकान का नक्शा निरस्त कर दिया जाएगा.
लखनऊ विकास प्राधिकरण कार्यालय

लखनऊ : लखनऊ विकास प्रधिकरण के अधिकारियों ने सांसद अफजाल अंसारी की पत्नी फरहत अंसारी को मंगलवार को नोटिस दी है. ये नोटस उनके डालीबाग स्थित मकान का नक्शा निरस्त करने के संबंध में दी गई है. एलडीए के एक इंजीनियर ने बताया कि एलडीए का नोटिस फरहत अंसारी ने खुद ही रिसीव किया.

जानकारी के मुताबिक अफजाल अंसारी व फरहत अंसारी का मकान जियामऊ के उसी गाटा संख्या 93 में बना है जिसमें मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों अब्बास अंसारी व उमर अंसारी के मकान बने थे. जिलाधिकारी ने गाटा संख्या 93 की जमीन को निशक्रांत घोषित कर दिया है. आपको बता दें कि इसी के चलते पिछले हफ्ते एलडीए ने मुख्तार अंसारी के दोनों बेटों के मकान गिरा दिए थे. 

फरहत अंसारी के मकान का नक्शा एलडीए ने 2007 में पास किया था. तब फरहान अंसारी ने इस जमीन को अपनी बताया था. लेकिन अब जिलाधिकारी ने एलडीए को जो पत्र भेजा है उसमें जमीन निशक्रांत बताई गई है. एलडीए के अधिकारियों का कहना है कि इस पत्र के हिसाब से फरहत अंसारी का जमीन का मालिकाना हक खत्म हो गया है. इसीलिए उन्हें ये नोटिस दी भेजी गई है. उनसे 2 हफ्ते में  नोटिस का जवाब उनसे दो हफ्ते में मांगा गया है. अधिकारियों का कहना है कि अगर फरहत अंसारी जमीन के मालिकाना हक का सबूत नहीं दे पाएंगे तो एलडीए इसका नक्शा निरस्त कर देगा. उनका जवाब आने के बाद मामले की सुनवाई होगी. इसके बाद एलडीए प्रशासन इसके बारे में निर्णय लेगा.

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें