लखनऊ की मेजर श्वेता पांडे, लाल किले पर थीं पीएम नरेंद्र मोदी की फ्लैग ऑफिसर

Smart News Team, Last updated: 15/08/2020 12:40 PM IST
  • मेजर श्वेता पांडेय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ स्वतंत्रता दिवस पर लाल किले से झंडारोहण का दायित्व संभाला. मेजर श्वेता पांडेय लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल की छात्रा रही हैं. इससे पहले भी मेजर श्वेता पांडेय ने मॉस्को में विजय दिवस की परेड में भारत की तीनों सैन्य टुकड़ियों की अगुवाई की थी. 
लखनऊ की मेजर श्वेता पांडे, लाल किले पर थीं पीएम नरेंद्र मोदी की फ्लैग ऑफिसर

लखनऊ. स्वतंत्रता दिवस के मौके पर हर साल प्रधानमंत्री के साथ झंडा फ़हरते समय फ्लैग ऑफिसर मौजूद रहते हैं. इस बार यह जिम्मेदारी लखनऊ की रहने वाली मेजर श्वेता पांडेय को मिली है. जिन्होंने इस स्वतंत्रता दिवस के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की राष्ट्रध्वज फ़हराने में मदद की. जानें कौन है मेजर श्वेता पांडेय.

मेजर श्वेता पांडेय भारतीय सेना की 505 बेस वर्कशॉप में इलेक्ट्रॉनिक और मैकेनिकल (ईएमई) की अधिकारी हैं। श्वेता पांडेय ने अपनी पढ़ाई लखनऊ के सिटी मॉन्टेसरी स्कूल से की है जो देश का काफ़ी जाना-माना स्कूल है. इसके साथ ही उन्होंने मेरिट के साथ फर्स्ट डिवीजन में कम्प्यूटर साइंस में बी.टेक की पढ़ाई की है. 

लखनऊ: स्वतंत्रता दिवस के मौके पर उत्तर प्रदेश में गाइडलाइन्स जारी

उन्होंने अपने स्कूल और कॉलेज के समय में भाषण और वाद-विवाद प्रतियोगिताओं में राष्ट्रीय और अंतरराष्ट्रीय स्तर पीकर लगभग 75 मेडल और 250 सर्टिफिकेट अपने नाम किए हैं. इसके साथ ही उन्होंने चेन्नई के ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में टैक्टिस ट्रेनिंग में टॉप करते हुए गढ़वाल राइफल्स मेडल भी जीता है. 

लखनऊ: स्वतत्रंता दिवस पर देश के सबसे बड़े प्लाज्मा बैंक का होगा उद्धघाटन

मेजर पांडे को मार्च 2012 में चेन्नई के ऑफिसर्स ट्रेनिंग अकादमी में कमीशन मिला था. वे इस साल जून में मॉस्को में हुई विजय दिवस परेड में एक भारतीय सैन्य टुकड़ी का हिस्सा भी रही. श्वेता पांडे के पिता राज रतन पांडे उत्तरप्रदेश सरकार के वित्त विभाग में अतिरिक्त निदेशक रह चुके हैं. जबकि मां अमिता पांडे संस्कृत और हिंदी की प्रोफेसर हैं.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें