मलिहाबाद में मौत पर बवाल बढ़ा, सड़क जाम, पथराव, पुलिस फायरिंग में एक घायल

Smart News Team, Last updated: 11/09/2020 09:28 PM IST
  • गुरुवार को मलिहाबाद में बाइक भिड़ंत में हुई युवक की मौत पर ग्रामीणों का गुस्सा बढ़ता जा रहा है. जिसके बाद देर रात ग्रामीणों ने लखनऊ-हरदोई रोड जाम की.  जिसके बाद ग्रामीणों ने पुलिस बल पर पथराव किया जिसमें कई पुलिसकर्मी घायल हो गए. जबकि पुलिस की ओर से हुई फायरिंग में एक ग्रामीण जख्मी हो गया.
मलिहाबाद में युवक की मौत के बाद हुए बवाल के बाद तैनात पुलिस बल

लखनऊ: बीते गुरुवार मलिहाबाद में बाइक भिड़ंत में युवक की मौत के बाद हुआ बवाल आज और बढ़ गया. युवक की मौत से गुस्साए ग्रामीणों ने गुरुवार रात लखनऊ हरदोई रोड पर जाम लगा दिया. जिसे आज हटाने के लिए आज पुलिस ने फायरिंग की. पुलिस की फायरिंग में एक ग्रामीण घायल हो गया है. 

 

बाइक भिड़ंत में युवक की मौत के बाद बवाल करते ग्रामीण

जानकारी के मुताबिक गुरुवार को दो बाइकों की भिड़ंत हुई थी. जिसमें दिलावर नगर निवासी राम विलास (35) घायल हो गया. घटना के बाद गम्भीर रूप से घायल राम विलास को इलाज के लिए परिजन अस्पताल ले जा रहे थे. लेकिन, रास्ते में ही राम विलास ने दम तोड़ दिया. इसके बाद मृतक राम विलास के परिजनों ने गांव में रहने वाले हाजी मुन्ना के बेटे गुलाम पर हत्या का आरोप लगाया. परिजनों ने उसकी गिरफ्तार की मांग की. बताया जा रहा है कि मौके पर गुस्साई भीड़ ने हाजी मुन्ना के घर में आग लगा दी. साथ ही भीड़ ने मारपीट में गुलाम को भी घायल कर दिया. घायल गुलाम का इलाज अस्पताल में चल रहा है.

लखनऊ: मलिहाबाद में युवक की मौत पर हंगामा, कई घरों और गाड़ियों में तोड़फोड़

घटना के बाद से पूरे इलाके में तनाव बना हुआ है. इसी को देखते हुए गांव में भारी संख्या में पुलिस बल भी तैनात किया गया है. सीओ ने मृतक के परिजनों और समर्थकों को जल्द कार्रवाई का आश्वासन दिया. जिसके बाद गांव वाले शांत हो गए थे . लेकिन गुरुवार देर रात ग्रामीणों ने लखनऊ-हरदोई रोड जाम कर  बवाल किया.

युवक की मौत के बाद लखनऊ-हरदोई रोड जाम करते गुस्साए ग्रामीण

राम विलास की मौत से गुस्साए ग्रामीणों के लखनऊ हरदोई रोड पर लगे जाम को हटाने के लिए पुलिस ने फायरिंग का सहारा लिया. पुलिस की फायरिंग में एक ग्रामीण घायल हो गया. इस दौरान ग्रामीणों ने भी पुलिस पर पथराव किया जिसमें कई पुलिस कर्मियों के जख्मी होने की सूचना मिली है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें