लखनऊ: शेल्टर होम से भागी लापता किशोरी 8 महीने बाद मलिहाबाद थाने में सौंपी

Smart News Team, Last updated: 18/08/2020 09:19 AM IST
  • नवजागृति शेल्टर होम से भागी किशोरी को 8 महीने बाद मलिहाबाद के एक पुलिस थाने में सौंप दिया गया है. सोशल मीडिया पर फोटो वायरल होने के बाद किशोरी मिली.
मेरठ पुलिस

लखनऊ. लखनऊ के पीजीआई के नवजागृति शेल्टर होम से भागी किशोरी को 8 महीने बाद मलिहाबाद में देखा गया था.किशोरी इधर-उधर भटक रही थी. जानकारी के अनुसार उसे बाद में मलिहाबाद स्थित पुलिस थाने पर कार्यत पुलिसकर्मियों को सौंप दिया गया था. इसके कुछ दिन बाद पता चला कि किशोरी फिर कहीं भटक गई. किशोरी कहां गई इसकी जानकारी खुद पुलिस को भी नहीं है.

18 जुलाई 2020 की शाम में मलिहाबाद क्षेत्र में एक किशोरी भटकती हुई दिखी. प्रत्यक्षदर्शियों के मुताबिक, लोगों ने उससे कुछ पूछना चाहा, लेकिन वो कुछ भी बताने को तैयार नहीं थी. जानकारी के अनुसार वो भूखी थी. लोगों ने उस किशोरी को खाना खिलाया. इसके बाद पुलिस के हवाले कर दिया. लेकिन, तब भी उस किशोरी के संबंध में कोई जानकारी पुलिस को नहीं मिली.

लखनऊ: UPPSC खंड शिक्षा अधिकारी परीक्षा देने वाले दो सॉल्वर प्रयागराज से गिरफ्तार

हालांकि, इस घटना को लेकर इंस्पेक्टर मलिहाबाद का कहना है कि किसी ने किशोरी को पुलिस को नहीं सौंपा था. सोमवार को सोशल मीडिया पर उसकी फोटो वायरल होने के बाद लोगों ने तलाशी शुरू कर दी. वहीं, इस पूरे मामले को लेकर बाल कल्याण ने सोशल मीडिया पर वायरल हो रही फोटो को देखने के बाद समिति की मेंबर डॉ. संध्या शर्मा ने बताया कि बच्ची की फोटो देखकर पहचान कर ली गई.

लखनऊ: PNG गैस पाइपलाइन में हुआ धमाका, कंपनी ने शॉर्ट सर्किट बताया आग का कारण

उन्होंने बताया कि यह फोटो साल 2019 की है. नवम्बर 2019 को बच्ची नवजागृति होम शेल्टर से भाग गई थी. कुछ जिम्मेदार लोगों ने इसके बारे में पीजीआई पुलिस थाने को दी, लेकिन पुलिस ने कोई मुकदमा दर्ज नहीं किया. पुलिस को जानकारी देने वाले लोगों ने बताया कि यह पुलिस की लापरवाही है.

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें