लखनऊ के नेवी मर्चेन्ट का शव मलेशिया के बंदरगाह पर मिला, हत्या की आशंका

Smart News Team, Last updated: 14/08/2020 11:21 PM IST
  • लखनऊ के नेवी मर्चेंट का शव मलेशिया के बंदरगाह पर मिला है. परिवार ने मानव अंग तस्करी के लिए साजिश के तहत हत्या की आशंका जताई है.
लखनऊ के नेवी मर्चेंट का मृत शरीर संदिग्ध हालत में मलेशिया के पोर्ट पर मिला.

लखनऊ. लखनऊ के नेवी मर्चेंट का संदिग्ध हालत में शव मलेशिया के बंदरगाह पर मिला है. सौरव पांडेय का मृत शरीर मलेशिया के सीबू सारावाका बंदरगाह पर मिलने के बाद परिवार ने साजिश और हत्या की आशंका जताई है. लखनऊ के आलमबाग के रहने वाले सौरव के पिता ने कहा कि मानव अंग तस्करी के लिए उनके बेटे की हत्या की गई है.

लखनऊ के आलमबाग इलाके के आनंद नगर निवासी हरिश पांडेय का इकलौता बेटा सौरव मर्चेंट नेवी में ऑयलर के पद पर तैनात था. 28 दिसम्बर 2019 को वह एंगजुन शिपिंग एजेंसी के 'लेटर ऑफ गारंटी' पर मलेशिया की शिप पर गया था.   

लखनऊ: कोरोना महामारी के बीच डेंगू का कहर, 50 से ज्यादा लोग चपेट में आए

19 जुलाई की रात 8:30 बजे सौरव ने मां विनती पांडेय से वीडियो कॉल पर बात की थी. मां सुनीता ने बताया कि वीडियो कॉल के दौरान सौरव काफी परेशान था और उसके चेहरे पर चोट के निशान दिख रहे थे.

20 जुलाई को मलेशिया पुलिस ने फोन करके बताया कि सौरव मलेशिया के सीबू सारावाक पोर्ट के पास डूब गया है और उसकी तलाश की जा रही है. इस घटना के दो दिन बाद परिवार को उसका शव बरामद होने की सूचना दी गई. 

राम जन्मभूमि ट्रस्ट अध्यक्ष नृत्यगोपाल दास के बाद दो शिष्य भी हुए कोरोना पॉजिटिव

इस पूरे मामले में सौरव के परिवार वाले गहरी साजिश की आशंका जता रहे हैं. नेवी मर्चेंट के पिता हरिश ने कहा कि सौरव के पास दो मोबाइल फोन थे. घटना के तीन दिन बाद तक सौरव का सहकर्मी संजू उनको सौरव के मोबाइल से ही फोन करके जानकारी दे रहा था जबकि अब कहा जा रहा है कि सौरव के दोनों मोबाइल गायब हैं. 

विनती पांडेय ने आरोप लगाया कि मलेशिया पुलिस की पोस्टमार्टम रिपोर्ट के अनुसार सौरव की मौत डूबने के कारण हुई है. वहीं सौरव के पेट पर बाएं तरफ चीरे का लंबा निशान है उनके शरीर पर पहले नहीं था. इसी के अनुसार मानव अंग तस्करी के लिए सौरव की हत्या की आशंका जताई जा रही है.  

 

आज का अखबार नहीं पढ़ पाए हैं।हिन्दुस्तान का ePaper पढ़ें |

अन्य खबरें